Pakistan News

आतंकी मसूद अजहर का ऑडियो टेप आया सामने, कहा- 'बाबरी मस्जिद की जगह राम मंदिर बर्दाश्त नहीं की जाएगी'

Written By Gaurav Kumar | Mumbai | Published:

जैश-ए-मोहम्मद के मुखिया मसूद अजहर का एक ऑडियो टेप सामने आया है जिसमें वो साफतौर पर अयोध्या में बाबरी मस्जिद की वकालत करता नजर आ रहा है. आतंकी अजहर इस ऑडियो में कह रहा है कि बाबरी मस्जिद की जगह राम मंदिर बर्दाश्त नहीं की जाएगी. इसके साथ ही आतंकी अजहर मसूद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और हाल ही में अयोध्या पहुंचे शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे को धमकी दे रहा है. मसूद अजहर कह रहा है कि मुसलमान सहमे हुए हैं. 

आतंकी मसूद अजहर ने कहा, 'बाबरी मस्जिद हमसे छीन ली गई.. उसपर एक मंदिर कायम कर दिया गया .. और आजतक वहां पर मजमा इकट्ठा है.. वो राम मंदिर को बनाने की बात कर रहे हैं.. उनके हाथों में तलवारें और त्रिशूल हैं.. जबकी मुसलमान सहमे - सहमे खौफजदा हैं. बाबरी मस्जिद फिर पुकार रही है.. ये इम्तिहान की घड़ी है.. या अल्लाह जान हाजिर है सबकुछ हाजिर है..'

इसके साथ ही आतंकी अजहर PM मोदी और उद्धव ठाकरे को धमकी देते हुए कह रहा है कि, 'ठाकरे ठोकरो पर होगा .. मोदी मकड़े की जाले की तरह हो जाएगा.. जिनको मुसलमानों का लीडर बनने का शौख है वो अपनी जिम्मेदारी अदा करें.' 

वहीं बाबरी मस्जिद के पक्षकार इकबाल अंसारी ने जैश-ए-मोहम्मद के मुखिया मसूद अजहर के ऑडियो टेप पर रिपब्लिक टीवी से बात की है. इकबाल अंसारी का कहना है कि 'हम न तो मसूद अजहर को जानते हैं न तो हमारा उससे कोई लेना देना है.. हम हिंदुस्तान के हैं ना कि पाकिस्तान के .. '

बता दें, अयोध्या का पूरा मामला इस समय सुप्रीम कोर्ट में है. हाल ही में सुप्रीम कोर्ट ने इस पूरे मामले को जनवरी 2019 तक के लिए टाल दिया है. जिसके बाद से ही कई हिंदूवादी संगठनों के द्वारा राम मंदिर मामले में अध्यादेश लाने की बात की जा रही है. वहीं राम मंदिर को लेकर अलग-अलग राजनीतिक दलों के नेताओं की अलग-अलग राय है.

कई राजनीतिक दल के नेता इस मामले में सुप्रीम कोर्ट से ही अंतिम फैसला करने की बात कर रहे हैं. वहीं VHP- RSS जैसे संगठन राम मंदिर पर अध्यादेश लाने की बात रहे हैं.  

इसे भी पढ़ें: राम मंदिर के लिए सरकार को अध्यादेश लाना चाहिए या कानून लागू करना चाहिए: RSS

DO NOT MISS