Science

ISRO प्रमुख का ऐतिहासिक ऐलान, 'चंद्रमा के लिए 15 जुलाई को लॉन्च होगा चंद्रयान-2'

Written By Neeraj Chouhan | Mumbai | Published:

भारत एक बार फिर चंद्रमा की उड़ान भरने के लिए तैयार है। दरअसल जल्द ही देश की अंतरिक्ष एजेंसी भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो)  ने ऐलान किया है कि 15 जुलाई को चंद्रयान-2 लॉन्च होगा।

इसकी जानकारी खुद इसरो के अध्यक्ष के. सिवन ने दी। उन्होंने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि चंद्रमा के लिए आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा से दोपहर 2बजकर 51 मिनट पर भारत के दूसरे मिशन चंद्रयान-2 को 15 जुलाई को प्रक्षेपित किया जाएगा। 

क्या है चंद्रयान-2?

  • पूरी तरह से स्वदेशी मिशन
  • चंद्रमा के लिए भारत का दूसरा मिशन
  • 3 लाख 84 हजार किलोमीटर की उड़ान भरेगा
  • चांद पर पहुंचने के लिए 55 दिन लगेंगे

इसरो के मुताबिक, चंद्रयान-2 दूसरा चंद्र अभियान है और इसमें तीन मॉडयूल हैं ऑर्बिटर, लैंडर (विक्रम) और रोवर (प्रज्ञान)। लैंडर रोवर में समाहित रहेगा और चंद्रमा पर लैंडर के उतरने के बाद रोवर सतह पर बाहर आ जाएगा। इसरो की जानकारी के अनुसार मिशन के समय ऑर्बिटर सर्वप्रथम चंद्रमा के मंडल का चक्कर लगाएगा और फिर चंद्रमा के दक्षिण भाग पर लैंडिंग करेगा।