Politics

"फ्री सर्विस" की राजनीति पर गंभीर VS AAP, गौतम ने केजरीवाल को बताया "झूठलीवाल", गिनाई ये वजह

Written By Neeraj Chouhan | Mumbai | Published:

दिल्ली में चुनावी बिगुल बज चुका है और जैसे जैसे चुनाव की तारिख नजदीक आ रही है सियासी दलों में जुबानी जंग तीखी होती जा रही है। राजधानी की सत्ताधारी आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह और मुख्य विपक्षी दल बीजेपी के नेता गौतम गंभीर में वार- पलटवार बुधवार को अपने चरम पर देखने को मिला। 

दरअसल राज्यसभा सांसद संयज सिंह ने बुधवार को प्रेस को संबोधित करते हुए गौतम गंभीर पर निशाना साधते हुए कहा कि अगर केजरीवाल सरकार लोगों को 200 यूनिट तक मुफ़्त बिजली, मुफ़्त पानी, मुफ़्त शिक्षा-चिकित्सा की सुविधाएं दे रही है तो इसमें क्या ग़लत है? हमने इस बढ़ती महंगाई में आम आदमी का घर चलाने में मदद की है। गंभीर जी एक ग़रीब का दर्द समझिए।"

यह भी पढ़ें - प्रकाश जावडेकर के साथ मुलाकात के बाद BJP में जाने की अटकलों पर कुमार विश्‍वास ने दिया ये जवाब

उन्होंने आगे कहा कि  BJP सांसद गौतम गंभीर का बयान आया है कि वह मनोज तिवारी के केजरीवाल सरकार से 5 गुना देने वाले बयान से सहमत नहीं हैं। ऐसा बयान पहले भी BJP के कई बड़े नेता दे चुके हैं।"

आप पार्टी के हमले को हाथों-हाथ लेते हुए गंभीर ने भी जबावी पटलवार किया। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि मैंने कभी भी ये नहीं कहा कि गरीबों को मुफ्त में सुविधा नहीं देनी चाहिए। लेकिन जो लोग इस सुविधा को अफॉर्ड कर सकते हैं वो कुछ चार्ज तो दे सकते हैं।

गंभीर ने आगे दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधते हुए लिखा कि लेकिन आप एक ऐसे व्यक्ति को क्या कहेंगे जिसने 'आम आदमी' बनने की कसम खाई है, लेकिन अब सभी अनुलाभों का आनंद ले रहा है, जैसे बंगले, कारें और भी बहुत कुछ। मुझे लगता है कि ऐसे पाखंडी को "झोटीवाल" कहा जाता है !! 

 

DO NOT MISS