Pakistan News

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने PM मोदी को चिट्ठी लिखकर की ये अपील ..

Written By Gaurav Kumar | Mumbai | Published:

जहां एक तरफ सीमापार से पाकिस्तान के द्वारा भारतीय सैनिकों को निशाना बनाया जा रहा है वहीं दूसरी तरफ पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान भारत के साथ शांति के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिख रहे हैं. पाक पीएम इमरान खान ने प्रधानमंत्री मोदी को चिट्ठी लिखकर आतंकवाद के मुद्दे पर बातचीत करने की बात कही है. क्रिकेटर से राजनीति में एंट्री करने वाले इमरान खान ने अपनी चिट्ठी में कई मुद्दों को उठाया है.

इमरान खान अपनी चिट्ठी में लिखते हैं, ''मैं आपकी भावनाओं का समर्थन करता हूं कि हमारे दोनों देशों को आगे ले जाने का एक मात्र रास्ता रचनात्मक बातचीत ही है.'' इसके साथ ही उन्होंने लिखा, 'इन्हीं भावनाओं को ध्यान में रखते हुए पाकिस्तान के कानून और सूचना मंत्री भारत के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के अंतिम संस्कार के दौरान भारत गए थे. 'उन्होंने कहा, ''वाजपेयी उन लोगों में से थे जिन्होंने दोनों देशों के बीच संबंधों को सुधारने की दिशा में काफी काम किए.'

इमरान खान आगे लिखते हैं कि हम व्यापार, लोगों के बीच कनेक्ट, धार्मिक टूरिज्म पर बात करना चाहते हैं. उन्होंने लिखा, भारत और पाकिस्तान के बीच चुनौतीपूर्ण संबंध हैं. हम सभी मुद्दों को शांतिपूर्ण तरीके से सुलझाना चाहते हैं. जिसमें जम्मू-कश्मीर विवाद, सियाचिन के मुद्दे को भी सुलझाना चाहते हैं. 

उन्होंने लिखा, 'मैं चाहता हूं कि न्यूयॉर्क में होने वाली UNGA के दौरान सार्क विदेश मंत्रियों की अनौपचारिक बैठक से पहले पाकिस्तान के विदेश मंत्री, मखदूम शाह महमूद कुरैशी और भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के बीच एक बैठक हो. बता दें, इस्लामाबाद में होने वाली सार्क समिट में इमरान खान ने पीएम मोदी को पाकिस्तान आने का न्योता दिया है ताकी नए सिरे बातचीत हो सके. 

इमरान खान की PM मोदी को चिट्ठी -

बता दें, इमरान खान जब से पाकिस्तान के प्रधानमंत्री बने हैं तब से ही  दोनों देशों के बीच शांति की बात कर रहे हैं. लेकिन इमरान खान के ''शांति'' वाले दावे की पोल तब खुल जाती है जब पाकिस्तान के द्वारा सीमापार से भारतीय सुरक्षाबलों को निशाना बनाया जाता है. पाकिस्तान फिलहाल कर्जे में डूबा हुआ देश हैं. जो इन दिनों अपने कर्जे को कम करने के लिए न जाने क्या-क्या बेचने पर तुला हुआ है. गिरती अर्थव्यवथा और उलझनों में फंसे पाकिस्तान को अब भारत जैसे देश की जरुरत है. यही वजह है कि इमरान खान भारत की तरफ दोस्ती का हाथ बढ़ाना चाहते हैं..

DO NOT MISS