Pakistan News

पाकिस्तान: चीनी दूतावास के पास ताबड़तोड़ फायरिंग, भारत ने की आतंकी हमले की निंदा

Written By Ayush Sinha | Mumbai | Published:

पाकिस्तान में कराची के चीनी दूतावास के पास आतंकी हमले में ताबड़तोड़ फायरिंग की गई. चीनी वाणिज्य दूतावास के पास हुए आतंकी हमले की कड़ी निंदा करते हुए भारत ने शुक्रवार को कहा कि आतंकवाद के किसी भी कृत्य को कभी भी उचित नहीं ठहराया जा सकता है. 

विदेश मंत्रालय ने अपने बयान में कहा कि आज सुबह कराची में चीनी वाणिज्य दूतावास के पास हुए आतंकी हमले की भारत कड़ी निंदा करता है और इस जघन्य हमले में लोगों की मौत पर शोक प्रकट करते हैं. उन्होंने कहा, ‘‘आतंकवाद के किसी भी कृत्य को कभी भी उचित नहीं ठहराया जा सकता है. इस जघन्य हमले को अंजाम देने वालों को न्याय के कटघरे में खड़ा किया जाना चाहिए.’’ 

मंत्रालय ने कहा कि ऐसे आतंकी हमले अंतरराष्ट्रीय समुदाय को आतंकवाद के सभी स्वरूपों से मुकाबला करने के संकल्प को मजबूत बनाते हैं.

दरअसल पाकिस्तान में कुछ अज्ञात बंदूकधारियों ने कराची स्थित चीनी वाणिज्य दूतावास के पास गोलियां चलाईं. इसके अलावा हेंड ग्रेनेड से भी हमला किया गया. जिसमें दो पुलिसकर्मियों की मौत हो गई. बता दें, जिस इलाके में ये पूरी घटना हुई है वो काफी रिहायशी इलाका है. 

जानकारी के मुताबिक घटना के तुरंत बाद SSP पीर मोहम्मद शाह की अगुवाई में दूतावास को खाली करवाया गया. जिसके बाद सुरक्षाबलों ने भी जवाबी फायरिंग की. सुरक्षा को देखते हुए से पुलिस और पाक रेंजर्स ने पूरे इलाके को घेर लिया था और आसपास के सभी रास्तों को बंद कर दिया गया था.

वहां मौजूद लोगों का कहना है कि सुबह करीब 9:30 बजे कुछ लोग हाथों में हेंड ग्रेनेड और हथियार लिए हुए थे और दूतावास के पास फायरिंग कर रहे थे. हालांकि हमले चीनी दूतावास के सभी अधिकारी सुरक्षित हैं. लेकिन इस हमले में पाक पुलिस के दो सुरक्षाकर्मी मारे गए हैं. वहीं पाक रेंजर्स ने 3 हमलावरों को भी मार गिराया है. 

इस हमले की जिम्मेदारी बलूचिस्तान के अलगाववादी समूह बलूच लिबरेशन आर्मी (बीएलए) ने ली है. डॉन समाचारपत्र की ख़बर के मुताबिक क्लिफटन इलाके में एक धमाके की भी आवाज सुनी गई थी. जिसके बारे में फिलहाल कोई जानकारी नहीं मिली है.

पाकिस्तान के चीनी दूतावास के पास ऐसे आतंकी हमले होने के बाद कई सवाल उठ रहे हैं.

DO NOT MISS