Politics

कांग्रेस ने रायबरेली की विधायक अदिति सिंह को पार्टी की महिला विंग की महासचिव पद से किया निलंबित

Written By Gaurav Kumar | Mumbai | Published:

कांग्रेस पार्टी ने रायबरेली से विधायक अदिति सिंह को पार्टी के महिला विंग के जनरल सेक्रेटरी पद से निलंबित कर दिया है। साथ ही उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई शुरू कर दी है। बता दें, 'बस' पर हो रही राजनीति को लेकर अदिति ने अपनी ही पार्टी पर सवाल उठाए है। एक के बाद एक ट्वीट करते हुए उन्होंने कांग्रेस पार्टी को घेरा और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तारीफ भी की। एक हजार बसों को लेकर हो रही राजनीति पर अदिति  ने कहा है कि आपदा के वक्त ऐसी निम्न सियासत की क्या जरूरत है।

रायबरेली की विधायक अदिति सिंह पर गिरी गाज

अदिति ने कांग्रेस पर उठाए थे सवाल

उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा था, 'आपदा के वक्त ऐसी निम्न सियासत की क्या जरूरत,एक हजार बसों की सूची भेजी, उसमें भी आधी से ज्यादा बसों का फर्जीवाड़ा, 297 कबाड़ बसें, 98 आटो रिक्शा व एबुंलेंस जैसी गाड़ियां, 68 वाहन बिना कागजात के, ये कैसा क्रूर मजाक है, अगर बसें थीं तो राजस्थान,पंजाब, महाराष्ट्र में क्यूं नहीं लगाई।'

इसके साथ ही उन्होंने सीएम योगी की तारीफ करते हुए कहा है कि कोटा में जब यूपी के हजारों बच्चे फंसे थे तब योगी आदित्यनाथ ने ही रातों रात बसें लगाकर इन बच्चों को घर पहुंचाया था। 

अदिति ने ट्वीट में लिखा, 'कोटा में जब UP के हजारों बच्चे फंसे थे तब कहां थीं ये तथाकथित बसें, तब कांग्रेस सरकार इन बच्चों को घर तक तो छोड़िए,बार्डर तक ना छोड़ पाई,तब श्री योगी आदित्यनाथ जी ने रातों रात बसें लगाकर इन बच्चों को घर पहुंचाया, खुद राजस्थान के सीएम ने भी इसकी तारीफ की थी।'

इससे पहले कांग्रेस पार्टी ने अदिति सिंह को आदेशों का पालन नहीं करने और पिछले साल विशेष विधानसभा में भाग लेने के लिए उनकी आलोचना की थी। वही कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने बस विवाद पर यूपी सरकार पर तीखा हमला बोला है। उन्होंने प्रदेश सरकार पर राजनीति करने का आरोप लगाया है। प्रियंका ने कहा है कि बसों को रोक कर उन्होंने (राज्य सरकार) मजदूरों को उनके घर जाने से रोका है।

इसे भी पढ़ें: नेपाल के नए नक्शे पर भारत ने कहा- क्षेत्र के कृत्रिम विस्तार को स्वीकार नहीं किया जाएगा