Politics

राम मंदिर को लेकर BJP अध्यक्ष शाह का तीखा हमला, 'कांग्रेस पार्टी इसमें भी रोड़े अटका रही है'

Written By Ayush Sinha | Mumbai | Published:

देश में 5 साल बाद साल 2019 में एक बार फिर लोकसभा का चुनाव नजदीक है. चुनाव के मद्देनज़र सियासतदानों की बयानबाजी सिलसिलेवार तरीके से बादस्तूर जारी है. रोजाना अलग-अलग मुद्दे को लेकर कभी विपक्ष हमलावर होती है तो कभी सत्ताधारी पार्टी आग-बबूला होती है. इस बीच भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अधिवेशन में अमित शाह ने राम मंदिर का मुद्दा उठाया.

राम मंदिर का मुद्दा हमेशा से ही बीजेपी के लिए काफी अहम रहा है. इस बीच बीजेपी अध्यक्ष शाह ने मंदिर को लेकर कांग्रेस पार्टी पर तीखा हमला किया है. उन्होंने आरोप लगाया है कि कांग्रेस पार्टी इसमें भी रोड़े अटका रही है.

गौरतलब है कि बीते गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट में अयोध्या विवाद को लेकर 5 जजों की पीठ सुनवाई करने वाली थी लेकिन सुनवाई के दौरान जस्टिस उदय यू ललित ने अटकलों के बीच खुद को इस बेंच से अलग कर लिया जिसके बाद एक बार फिर सुनवाई टाल दी गई. अगली सुनवाई के लिए नए बेंच का गठन होगा और 29 जनवरी को नई बेंच सुनवाई करेगी.

सुनवाई टलने के बाद सियासी हलचलें काफी तेज हो गई और बयानबाजी भी जमकर देखी गई. इस बीच शुक्रवार को अमित शाह ने राम मंदिर पर टिप्पणी करते हुए कहा है कि भारतीय जनता पार्टी चाहती है कि सुप्रीम कोर्ट में चल रहे केस की जल्द से जल्द सुनवाई हो.

शाह ने कहा, ''भाजपा चाहती है जल्द से जल्द उसी स्थान पर भव्य राम मंदिर का निर्माण हो और इसमें कोई दुविधा नहीं हैं. हम प्रयास कर रहे है कि सुप्रीम कोर्ट में चल रहे केस की जल्द से जल्द सुनवाई हो लेकिन कांग्रेस इसमें भी रोड़े अटकाने का काम कर रही है.''

अमित शाह के आरोप से कांग्रेस पार्टी कटघरे में आ गई है. कंपकपाती हुई ठंड के मौसम में भी सियासी गलियारों की सरगर्मी बढ़ गई है. अचानक से राजनीतिक पारा हाई हो गया है.

बीजेपी अध्यक्ष ने इस दौरान विपक्षी पार्टी पर कई और आरोप लगाए. करारा हमला करते हुए उन्होंने कहा, ''नीरव मोदी, मेहुल चौकसी, विजय माल्या इन सबको लोन कांग्रेस के शासन में दिए गए, तब उनको भागने की जरूरत नहीं हुई. लेकिन जब चौकीदार सत्ता में आया तो इन्हें डर पैदा हुआ और वो बाहर भागे. इन सब चोरों को चौकीदार ही पकड़ कर लाएगा.''

शाह ने कहा कि कांग्रेस शासनकाल में हर रक्षा सौदे में दलाली हुई, अब मिशेल मामा पकड़े गए हैं तो वो पसीना-पसीना हो रहे हैं.

''मुझे बहुत अच्छा लगा जब अखबार में आंकड़ा आया, मैं अभिनन्दन करने के भाव के साथ राज्य सभा में पहुंचा, वहां देखा तो पूरी राहुल बाबा एंड कंपनी हाय तौबा मचा रही है 'कहां जायेंगे, कहा रहेंगे, क्या खाएंगे' जैसे उनके मौसेरे भाई लगते हो.''

उन्होंने राहुल गांधी पर सीधा निशाना साधते हुए कहा कि कुछ समय से जो स्वयं जमानत पर हैं, जिन पर इनकम टैक्स का 600 करोड़ रुपए बकाया हो, ऐसे लोग मोदी जी पर भ्रष्टाचार का आरोप लगा रहे हैं. जनता की सूझबूझ बहुत ज्यादा है. मोदी जी का प्रामाणिक जीवन और निश्कंलक चरित्र जनता के सामने है.

अपनी सरकार की उपलब्धि को गिनाते हुए शाह ने कहा, ''साढ़े चार सालों में 9 करोड़ शौचालय बनाकर माताओं और बहनों को शर्म से मुक्त करके सम्मान के साथ जीने का अधिकार भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने दिया है. मोदी सरकार ने बीते पांच साल में 6 करोड़ गरीब माताओं को गैस का सिलेंडर देने का काम किया है.''

इसे भी पढ़ें - गठबंधन पर बरसे अमित शाह, ''2019 का चुनाव विचारधारा की लड़ाई, विपक्ष केवल सत्ता के लिए साथ आ रहे हैं''

BJP अध्यक्ष ने कहा कि 2014 तक 60 करोड़ घर ऐसे थे जिनके पास अपना बैंक अकाउंट नहीं था, लेकिन मोदी जी ने एक झटके में ही इन सभी का अकाउंट बैंक में खोल दिया.

उन्होंने कहा कि जवानों को 'वन रैंक, वन पेंशन' देकर नरेंद्र मोदी सरकार ने उन्हें सम्मान देने का काम किया है. हमारी सरकार ने गोली का जवाब गोले से दिया है. मोदी सरकार ने देश की सुरक्षा को सुनिश्चित करने का काम किया है.

अमित शाह ने कहा, ''हमने गरीबों के कल्याण के लिए बहुत सारे काम किए हैं, उसके साथ-साथ हमारे देश की सुरक्षा भी महत्वपूर्ण है. 2014 से पहले देश के जवानों की हत्या कर दी जाती थी, आए दिन बॉर्डर से घुसपैठ होती थी, इस प्रकार की स्थिति में हमने देश संभाला था.''

अपनी पार्टी के बारे में बोलते हुए बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि 2014 में 6 राज्यों में भारतीय जनता पार्टी की सरकारें थीं और 2019 में 16 राज्यों में भाजपा की सरकारें हैं. 5 साल के अंदर भाजपा का गौरव तेज गति से बढ़ा है.

DO NOT MISS