General News

कांग्रेसी नेता गोविन्द सिंह का विवादित बयान, बीजेपी नेता साध्वी प्रज्ञा को बताया 'आतंकवादी'

Written By Neeraj Chouhan | Mumbai | Published:

लोकसभा चुनाव 2019 में जो सीट सबसे ज्यादा सुर्खियों में बनी हुई उनमें से एक मध्यप्रदेश की भोपाल लोकसभा सीट है। जहां पर कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह और बीजेपी की फायरब्रांड नेता साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर के बीच सीधा मुकाबला है,  जिसके चलते दोनों पार्टियों में तीखे वार दिखने को मिल रहे हैं। इसी बीच कांग्रेसी नेता और मध्यप्रदेश में सहकारिता मंत्री डॉ गोविन्द सिंह ने साध्वी प्रज्ञा को लेकर विवादित बयान दिया है।

गोविन्द सिंह ने साध्वी पर ताजा हमला बोलते हुए उन्हें आतंकवादी करार दिया है। कांग्रेसी नेता ने कहा कि साध्वी प्रज्ञा जैसी ही ट्रेंनिग आरएसएस देता है। चुनाव के पहले सांप्रदायिक भावना भड़काते हैं। चुनाव के बाद पाकिस्तान पीएम को बुलाकर गले लगाते हैं। दो मुंह सांप जैसी स्थति है। एक तरफ पत्नी को साथ नहीं रखते। दूसरी और मुस्लिमों को गाली देते हैं। आतंकवादियों को बीजेपी संरक्षण दिए हुए है। इसलिए कश्मीर में विस्फोट हुए हैं।

उन्होंने आगे कहा कि  साध्वी के पिताजी मेरे इलाके के रहने वाले हैं। वो आरएसएस के कार्यकर्ता थे। बचपन से झगड़ालू किस्म की लड़की थी। उस समय आधुनिक कपड़े पहनती थी प्रज्ञा। बचपन लहार में गुजरा। आठवीं में फेल हुई है। पिताजी इसे आरएसएस का नेता बनाना चाहते थे। चार बहनें हैं।

कांग्रेसी नेता ने आगे बीजेपी पर हमला करते हुए कहा कि बीजेपी का कोई नेता दिग्विजय सिंह का सामना नहीं कर पाया तो आतंकवादी गतिविधियों में शामिल रही महिला को टिकट दिया है। साध्वी के बयान असत्य और झूठ पर आधारित हैं।

बता दें, वर्ष 2008 में मालेगांव बम विस्फोट मामले में प्रज्ञा ठाकुर के खिलाफ गैर-कानूनी गतिविधि रोकथाम अधिनियम (यूएपीए कानून) के तहत मामला अदालत में विचाराधीन है। हालांकि, इस मामले में मकोका के तहत उन्हें क्लीन चिट मिल चुकी है।

भोपाल लोकसभा सीट पर कांग्रेस के उम्मीदवार दिग्विजय सिंह के खिलाफ भाजपा ने कट्टर हिन्दुत्व छवि की भगवाधारी साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को उम्मीदवार बनाया है। इसके बाद इस लोकसभा सीट का चुनाव पूरे देश में चर्चित हो गया है।

DO NOT MISS