General News

करतारपुर कॉरिडोर : नवजोत सिंह सिद्धू के पाकिस्तान जाने पर सीएम अमरिंदर ने कहा - यह उसकी इच्छा है, मैं कुछ भी नहीं कह सकता

Written By Amit Bajpayee | Mumbai | Published:

उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने पंजाब के गुरदासपुर में करतारपुर कॉरिडोर की आधारशिला रखी. इससे पाकिस्तान में स्थित पवित्र गुरुद्वारा दरबार साहिब करतारपुर तक जाने में मदद पहुंचेगी. इस दौरान पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पाकिस्तान आर्मी चीफ कमर बाजवा को चेतावनी दी. 

वहीं पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के पाकिस्तान जाने की इच्छा को लेकर भी कैप्टन अमरिंदर सिंह ने चुप्पी तोड़ते हुए कहा, '' यह उसकी इच्छा है, मैं कुछ भी नहीं कह सकता. मुझे केवल मुख्यमंत्री और सिख होने के नाते मेरी जिम्मेदारी पता है. इसलिए बतौर सिख मैं चाहता हूं कि मैं करतारपुर साहिब जाऊं, लेकिन मैं मुख्यमंत्री भी हूं. कानून और व्यवस्था बनाए रखाना मेरी जिम्मेदारी है. जो मुझे पाक जाने से रोकता है. ''


इससे पहले पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा , पाकिस्तान के सेना प्रमुख बाजवा अभी मुझसे काफी जूनियर हैं, मैं मुशर्रफ से भी सीनियर हूं . हर फौजी को पता है कि दूसरा फौजी क्या सोच रहा है. हम हमेशा अपने देश की रक्षा करना चाहते हैं, लेकिन तुम्हें ये किसने सिखाया है कि आम लोगों को मार दो. लोग अमृतसर में कीर्तन कर रहे थे , और वहां ग्रेनेड मार दिया गया. '

सीएम कैप्टन अमरिंदर ने कहा , ' बतौर सिख मैं चाहता हूं कि मैं करतारपुर साहिब जाऊं, लेकिन मैं मुख्यमंत्री भी हूं . यही कारण है कि मैं नहीं जाना चाहता हूं . उन्होंने कहा , 'मैं पाकिस्तान आर्मी चीफ को बता दूं कि हम भी पंजाबी हैं. आपको यहां आकर माहौल बिगाड़ने की इजाजत नहीं देंगे. '


कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कॉरिडोर के लिए पीएम मोदी और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान का शुक्रिया भी आदा किया. उन्होंने कहा , मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को इसके लिए शुक्रिया करता हूं. आज सिखों की पुरानी मांग को पूरा किया जा रहा है. करतापुर कॉरिडोर पर हम गुरु नानक देव के नाम पर एक बड़ा गेट बनाना चाहते है. इसका नाम करतारपुर द्वार रखेंगे. 

इससे पहले करतारपुर साहिब के शिलान्यास कार्यक्रम में पंजाब सरकार के मंत्री सुखविदर सिंह रंधावा ने अपने , सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह और अन्य मंत्रियों के नाम पर काला टेप लगा दिया. उन्होंने शिलापट्टा पर प्रकाश सिंह बादल और सुखबीर बादल के नाम लिखे जाने पर आपर्ति जाहिर करते हुए यह ड्रामा किया. 

हालांकि करतारपुर कॉरिडोर के आधारशिला कार्यक्रम में भारत की तरफ से प्रतिनिधित्व को लेकर अभी भी सस्पेंस है. विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पाकिस्तान का न्योता अस्वीकार कर दिया है. वहीं , पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने गेंद विदेश मंत्रालय के पाले में डाल दी है. उन्होंने कहा कि मैं पाकिस्तान जाने को उत्साहित हूं, हमने विदेश मंत्रालय से इसके लिए अनुमति मांगी है.

DO NOT MISS