Elections

PM Modi Interview | 'जब कांग्रेसियों ने मुझपर 250 जोड़ी कपड़े होने का आरोप लगाया, तो मैंने कहा कि यह 250 करोड़ की चोरी से बेहतर है': पीएम मोदी

Written By Neeraj Chouhan | Mumbai | Published:

लोकसभा चुनाव 2019 से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के नंबर वन न्यूज नेटवर्क रिपब्लिक टीवी को धमाकेदार इंटरव्यू दिया। रिपब्लिक भारत के एडिटर इन चीफ़ अर्नब गोस्वामी से बात करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात से जुड़ा एक 'मजेदार किस्सा' साझा किया।

गुजरात के एक किस्से का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि एक बार जब में मुख्यमंत्री था तो कांग्रेस के एक नेता ने मुझपर 250 जोड़ी कपड़े रखने का आरोप लगाया। इसका मैंने एक जनसभा में जवाब दिया कि लगता है कि 0 या 2 या फिर 5 वो अलग से जोड़ दिए हैं। चलिए आपके आरोप सही भी हो तो 250 जोड़ी कपड़े 250 करोड़ चुराने से अच्छा है।

यह भी पढ़ें - PM Modi Interview | मोदी का अल्टीमेटम- जैश के खिलाफ कार्रवाई करे पाक

कांग्रेसी नेताओं के आरोप स्वीकार करने के बाद, पीएम मोदी ने बदले में एक सवाल किया: "क्या आप उस व्यक्ति को चाहते हैं जिसने 250 करोड़ रुपये कमाए हैं या वह व्यक्ति जो 250 जोड़ी कपड़े का मालिक है?"

उन्होंने कहा, "अब, मैं आपसे पूछना चाहता हूं, हमने सुना है कि इस देश में कुछ सीएम ने 250 करोड़ रुपये कमाए। कभी-कभी हमने सुना है कि एक सीएम के भतीजे ने 250 करोड़ रुपये कमाए। कभी-कभी हमने सुना है कि एक सीएम का रिश्तेदार 2,500 करोड़ रुपये। अब आप तय करें कि क्या आप उस व्यक्ति को चाहते हैं जिसने 250 करोड़ रुपये कमाए हैं या वह व्यक्ति जिसके पास 250 जोड़े कपड़े हैं? यदि आपको लगता है कि जिस व्यक्ति के पास 250 जोड़ी कपड़े हैं, वह अपराधी है तो आप मुझे उन कपड़ों पैकिंग भेजें। अगले दिन, कांग्रेस ने ये आरोप लगाना बंद कर दिया।

यह भी पढ़ें - PM Modi Interview | 'सेना ने तैयार किया था बालाकोट एयरस्ट्राइक का प्लान, मैं इस मिशन में पूरी तरह से शामिल था': पीएम मोदी

बता दें, इसी इंटरव्यू के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कई मुद्दों को लेकर विपक्ष जमकर निशाना। विपक्ष द्वारा 'मिशन शक्ति' के परीक्षण को चुनाव के आरोपों पर पीएम मोदी ने कहा कि विपक्ष में छोटे कोई दल करें तो समझा सकता है लेकिन कांग्रेस जैसी पार्टी जो कि लंबे अरसे तक देश में शासन किया है और काफी अनुभवी नेता उनके पास हैं। तो ऐसे में कांग्रेस को यह समझना चाहिए कि यह विषय है क्या और किसी भी विषय पर बोलने के लिए जो प्राथमिक ज्ञान चाहिए, उसका भी कांग्रेस में अभाव दिखाई देता है। 

DO NOT MISS