Elections

CM की कुर्सी वाले सवाल पर सचिन पायलट ने झाड़ा पल्ला, कहा- ''राहुल गांधी करेंगे फैसला''

Written By Ayush Sinha | Mumbai | Published:

पांच राज्यों में विधानसभा चुनावों के लिए काउंटिंग जारी है जिसपर हर किसी की नजर लगातार बनी हुई है. इन पांच में से तीन राज्यों में मुकाबला काफी दिलचस्प देखा जा रहा है जहां भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस पार्टी की सीधी टक्कर है. जिसमें मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान शामिल है. लेकिन इन सबके बीच राजस्थान में हुए विधानसभा चुनाव के नतीजों के इस वक्त के रुझान के मुताबिक ये कहना गलत नहीं होगा कि राजस्थान की जनता ने बीजेपी को नकारने के संकेत दिए हैं.

199 सीटों के लिए हुई वोटिंग को लेकर शुरुआती रुझान में बीजेपी आधे से भी कम सीटों पर लुढ़क गई है. रुझानों के अनुसार कांग्रेस ने बढ़त बना रखा है. इसे लेकर राजस्थान कांग्रेस प्रमुख और सीएम पद के प्रबल दावेदार सचिन पायलट कांग्रेस की बढ़त को लेकर मीडिया के सामने आकर कांग्रेस कार्यकर्ताओं को बधाई दिया.

मीडिया से बात करते हुए सचिन पायलट ने कहा, ''जो शुरुआती रुझान आए हैं उससे स्पष्ट हो चुका है कि राजस्थान में पूर्ण बहुमत के साथ कांग्रेस पार्टी सरकार बनाने जा रही है. हमें अंतिम परिणाम तक इंतजार करना चाहिए लेकिन जो संकेत मिले हैं मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में और राजस्थान में तीनों राज्यों में कांग्रेस की सरकार बननी तय है. और 5 साल का कांग्रेस के कार्यकर्ताओं का और हम आम जनता का जो संघर्ष रहा उसका एक परिणाम है कि जहां कांग्रेस पिछली बार सिर्फ 21 सीट जीती थी आज हम लोग स्पष्ट बहुमत और हमें इंतजार करना पड़ेगा''


उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि अच्छा बहुमत मिलेगा. लेकिन भारतीय जनता पार्टी की जो लगातार हारें हो रही है, उपचुनाव में और 5 साल जो जनता को त्रस्त किया उसका परिणाम है कि आज जनता ने मन बना लिया. कि राजस्थान में दोबारा कांग्रेस की सरकार बनना तय है. जनता ने आज आशीर्वाद दिया है. उसका मैं आभारी हूं और हमें इंतजार करना पड़ेगा. लेकिन मुझे लगता है कि बहुत कंफर्टेबल मेजॉरिटी कांग्रेस पार्टी की राजस्थान में आने वाली है. 

मुख्यमंत्री बनने के सवाल पर पायलट ने मुस्कुराते हुए कहा...

''वो तो किसको क्या पद मिलेगा इसका निर्णय कांग्रेस आलाकमान राहुल गांधी जी, कांग्रेस के विधायक सबलोग बैठकर चर्चा करेंगे. आज का दिन बड़ा निर्णायक है. आज ही के दिन राहुल गांधी जी कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष बने थे. तो मैं समझता हूं इससे बढ़िया तोहफा उनके लिए क्या हो सकता है.''

वसुंधरा राजे के खिलाफ गुस्सा या कांग्रेस के मेहनत का परिणाम?

इस सवाल पर पायलट ने बोला, ''जब पिछली बार आज से 5 साल पहले भाजपा के 165 विधायक जीते थे और बीच में लगातार चुनाव हुए स्थानीय निकाय चुनाव हुए... परिषद उप चुनाव.. तमाम जगह भाजपा हारती चली गई और आज BJP और मुख्यमंत्री जी के शासन के खिलाफ लोगों का गुस्सा था साथ ही जो कांग्रेस पार्टी ने विकल्प प्रस्तुत किया था उसे देखते हुए गनता ने पसंद किया.''

बता दें, फिलहाल के रुझानों के अनुसार कांग्रेस लीड कर रही है और राजस्थान के किले पर झंडा फहराने के मूड में दिखाई दे रही है. फिलहाल पूरे नतीजे सामने आने के बाद ही तस्वीर बिल्कुल साफ हो पाएगी.

DO NOT MISS