PC: PTI
PC: PTI

Rest Of The World News

कोरोना: एडीबी ने भारत को 2.2 अरब डॉलर की सहायता देने का किया वादा

Written By Press Trust of India (भाषा) | Mumbai | Published:

एशियाई विकास बैंक (एडीबी) के अध्यक्ष मासत्सुगु असकावा ने शुक्रवार को कोरोना वायरस महामारी से लड़ने में भारत की मदद के लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को 2.2 अरब अमरीकी डॉलर (लगभग 16,500 करोड़ रुपये) की मदद का भरोसा दिया है। असकावा ने महामारी की रोकथाम के लिए भारत सरकार के उपायों की सराहना की। इन उपायों में राष्ट्रीय स्वास्थ्य आपातकालीन कार्यक्रम, उद्योगजगत को कर और अन्य राहत तथा 26 मार्च को घोषित 1.7 लाख करोड़ रुपये का आर्थिक राहत पैकेज शामिल है।

सरकार ने तीन सप्ताह के देशव्यापी लॉकडाउन से प्रभावित गरीबों, महिलाओं और श्रमिकों को तत्काल नकद और राशन जैसी सहायता मुहैया कराने के लिए इस राहत पैकेज की घोषणा की है।

2.2 अरब डॉलर की मिलेगी सहायता

असकावा ने कहा, 'एडीबी भारत की आपातकालीन जरूरतों में मदद करने के लिए प्रतिबद्ध है। हम स्वास्थ्य क्षेत्र और गरीबों, अनौपचारिक श्रमिकों, छोटे तथा मझोले उद्योगों और वित्तीय क्षेत्र पर इस महामारी के आर्थिक प्रभाव को कम करने में मदद के लिए 2.2 अरब अमरीकी डॉलर की तत्काल सहायता देने की तैयारी कर रहे हैं।' एडीबी ने एक बयान में कहा कि इस दौरान वह निजी क्षेत्र की वित्तीय जरूरतों को पूरा करने के लिए भी काम कर रहा है।

उन्होंने कहा, 'जरूरत पड़ने पर भारत के लिए एडीबी की सहायता को और बढ़ाया जाएगा। हम भारत की जरूरतों को पूरा करने के लिए अपने पास उपलब्ध सभी वित्त पोषण विकल्पों पर विचार करेंगे, जिसमें आपातकालीन सहायता, नीति आधारित ऋण और बजटीय समर्थन शामिल हैं।'

तेजी से बढ़ रहे कोरोना के मामले

बता दें, भारत में कोरोना महामारी तेजी से फैल रही है। भारत में अभी तक इस जानलेवा वायरस से 199 लोगों की मौत हो चुकी है और संक्रमित लोगों की संख्या 6,412 पर पहुंच गई।

इसे भी पढ़़ें:  कोरोना: चीन में 63 नए मामलों की पुष्टि, संक्रमण का दौर लौटने का डर

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि देश में अब भी 5,709 लोग संक्रमित हैं, 503 लोग स्वस्थ हो गए और उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई तथा एक व्यक्ति देश छोड़कर चला गया।

इसे भी पढ़़ें:  नेतन्याहू ने इजराइल को हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन का निर्यात करने के लिए भारत का आभार जताया