Global Event News

‘ट्रम्प, मोदी का संयुक्त संबोधन भारतीय-अमेरिकियों के योगदान का ऐतिहासिक सम्मान’

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

अमेरिका की एक शीर्ष राजनयिक ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ह्यूस्टन में आयोजित होने वाली ‘हाउडी मोदी’ रैली में शामिल होने का अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प का फैसला भारतीय-अमेरिकियों के योगदान का वास्तव में ऐतिहासिक सम्मान है।

दक्षिण एवं मध्य एशिया के लिए कार्यवाहक सहायक विदेश मंत्री एलिस जी वेल्स ने मंगलवार को ट्वीट किया, ‘‘ह्यूस्टन में ‘हाउडी मोदी’ कार्यक्रम में मोदी के साथ ट्रम्प का शामिल होना हमारे देश की समृद्धि और भारत एवं अमेरिका के बीच संबंधों को मजबूत करने में भारतीय-अमेरिकियों के योगदान का वास्तव में ऐतिहासिक सम्मान है।’’

व्हाइट हाउस ने घोषणा की है कि ट्रम्प 22 सितंबर को ह्यूस्टन रैली में मोदी के साथ शामिल होंगे। इस रैली में 50,000 से अधिक भारतीय-अमेरिकी शामिल होंगे।

सीनेटर टेड क्रूज ने कहा कि वह भारत एवं अमेरिका के संबंधों और भारतीय अमेरिकी समुदाय के योगदान एवं उसकी संस्कृति का जश्न मनाने के लिए ह्यूस्टन में मोदी का स्वागत करने को लेकर उत्सुक है।

‘न्यू अमेरिका’ में ‘लॉ एंड सिक्योरिटी फेलो’ रौनक डी देसाई कहा, ‘‘ह्यूस्टन में मोदी के साथ ट्रम्प के नजर आने से स्वदेश एवं विदेश में दोनों नेताओं को राजनीतिक लाभ होगा।’’

देसाई ने कहा कि जी-7 में दोनों नेताओं की मुलाकात के कुछ ही सप्ताह बाद यह घोषणा इस बात का मजबूत संकेत है कि मौजूदा द्विपक्षीय चुनौतियों के बावजूद अमेरिका और भारत की रणनीतिक साझेदारी की आधारशिला मजबूत है।

उन्होंने कहा कि ह्यूस्टन में मोदी के साथ ट्रम्प का नजर आना भारत के लिए एक बड़ी कूटनीतिक जीत है।

बता दें अमेरिका में भारत के राजदूत हर्षवर्धन श्रृंगला ने इस खबर की पुष्टि करते हुए न्यूज एजेंसी से कहा, ‘‘ सदन में बहुमत के नेता एवं डेमोक्रेट्स के दूसरे नंबर के नेता होयर भी कार्यक्रम में मौजूद लोगों को संबोधित करेंगे।’’

सदन में प्रतिनिधि सभा की स्पीकर नैन्सी पेलोसी ने भी रैली में शामिल होने को लेकर रुचि दिखाई थी। हालांकि वह पारिवारिक कारणों के चलते इस समारोह में शिरकत नहीं कर पाएंगी।

जानकारों की माने तो मोदी की मेगा रैली में ट्रंप के पहुंचने की खास वजह यह भी है कि अमेरिका का चौथा सबसे बड़ा शहर होने के साथ ही साथ ही ह्यूस्टन एनर्जी कैपिटल है। इसके साथ यहां 2020 में चुनाव होने वाले है। और इस इलाके में भारतियों का तादात अच्छी खासी है। 

( इनपुट- भाषा से भी )

DO NOT MISS