Global Event News

G-20 शिखर सम्मेलन LIVE: PM मोदी, ट्रंप और शिंजो आबे की त्रिपक्षीय बैठक पर सबकी नज़र..

Written By Ayush Sinha | Mumbai | Published:

8:10 बजे अपडेट : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ब्यूनस आयर्स में संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस से मुलाकात की.

8:00 बजे अपडेट : प्रधानमंत्री मोदी ने आर्ट ऑफ लिविंग द्वारा आयोजित ब्यूनस आयर्स में योग फॉर पीस इवेंट में सभा को संबोधित किया

7:15 बजे अपडेट : PM मोदी ने क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान अल सौद के साथ एक उपयोगी बातचीत की. पीएम ने ट्वीट कर के ये जानकारी दी कि हमने भारत-सऊदी अरब संबंधों के कई पहलुओं पर चर्चा की और आर्थिक, सांस्कृतिक और ऊर्जा संबंधों को आगे बढ़ाने के तरीकों पर भी चर्चा की.

7:10 बजे अपडेट : भारतीय समुदाय के लोगों ने अर्जेंटीना में पीएम मोदी का स्वागत किया.

7:00 बजे अपडेट : पीएम मोदी जी-20 शिखर सम्मेलन के लिए अर्जेंटीना के ब्यूनस आयर्स पहुंचे.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यहां अर्जेंटीना की राजधानी में दुनिया के नेताओं के साथ दो महत्वपूर्ण त्रिपक्षीय बैठकों में भाग लेंगे. इन बैठकों में प्रमुख वैश्विक चुनौतियों और घटनाक्रमों पर विचार विमर्श किया जाएगा.

प्रधानमंत्री ब्यूनर्स आयर्स में जी-20 शिखर सम्मेलन में भाग लेने आए हैं. वो जापान, अमेरिका और भारत के बीच पहली बार आयोजित की जा रही त्रिपक्षीय बैठक में हिस्सा लेंगे. इसके अलावा रूस, भारत और चीन के बीच दूसरी बार आयोजित की जा रही त्रिपक्षीय बैठक में भाग लेंगे. ये बैठक शुक्रवार को 12 साल के अंतराल के बाद आयोजित हो रही है.

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे से मुलाकात करेंगे. उसके बाद दोनों नेता संयुक्त रूप से मोदी के साथ त्रिपक्षीय बैठक करेंगे.

ट्रंप, आबे और मोदी के बीच यह बैठक ऐसे समय हो रही है जबकि चीन दक्षिण चीन सागर में क्षेत्रीय विवाद में उलझा हुआ है. इसके अलावा वो पूर्वी चीन सागर में जापान के साथ विवाद में उलझा हुआ है. दोनों ही क्षेत्रों को खनिज, तेल और अन्य प्राकृतिक संसाधनों में संपन्न माना जाता है.

चीन करीब करीब पूरे दक्षिण चीन सागर पर अपना दावा करता है जबकि वियतनाम, फिलीपींस, मलेशिया, ब्रुनेई और ताइवान इसके जलमार्गों पर अपना दावा करते हैं. इसमें प्रमुख समुद्री मार्ग भी शामिल हैं जिनसे होकर हर साल 3,000 अरब डालर के वैश्विक व्यापार का परिवहन होता है.

प्रधानमंत्री मोदी ने ब्यूनस आयर्स पहुंचने के फौरन बाद ट्वीट में कहा, "जी-20 शिखर सम्मेलन में निरंतर विकास को आगे बढ़ाने के उद्देश्य को ध्यान में रखते हुए विभिन्न मुद्दों पर व्यापक चर्चा की उम्मीद है."

मोदी ने एक अन्य ट्वीट में कहा, "हजारों किलोमीटर का फासला, फिर भी एकता की भावना से बंधे हैं! अर्जेंटीना में यादगार स्वागत के लिये भारतीय सुमदाय का बहुत आभारी हूं."

रूस, भारत और चीन (आरआईसी) की त्रिपक्षीय बैठक में मोदी, चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग और रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन भाग लेंगे.

इससे पहले विदेश मंत्रालय ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रवाना होने से पहले कहा था कि मोदी शिखर बैठक से अलग चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग और जर्मनी की चांसलर एंजेला मार्केल से भी मुलाकात करेंगे . वो  एक दिसंबर तक ब्यूनस आयर्स में रहेंगे.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी 20-शिखर सम्मेलन में जन धन योजना, मुद्रा योजना, आयुष्मान भारत और मृदा स्वास्थ्य कार्ड जैसे महत्वपूर्ण कार्यक्रमों पर भी बोलेंगे.

DO NOT MISS