Other Sports

खेलो इंडिया: लिखित ने तैराकी में कर्नाटक के लिए जीते 3 स्वर्ण, तालिका में शीर्ष पर महाराष्ट्र

Written By Press Trust of India (भाषा) | Mumbai | Published:

कर्नाटक के एसपी लिखित ने खेलो इंडिया यूथ गेम्स (केआईवाईजी)-2019 में सोमवार को तीन स्वर्ण पदक जीतकर तैराकी में अपने राज्य का दबदबा कायम किया.

इन खेलों के छठे दिन कर्नाटक ने तैराकी में दांव पर लगे 15 स्वर्ण पदकों में से छह स्वर्ण पदक अपने नाम किए. इन छह स्वर्ण में से तीन स्वर्ण एसपी लिखित के नाम रहा. उन्होंने 50 मीटर फ्रीस्टाइल और 50 मीटर बैकस्ट्रोक के अलावा चार गुणा 100 मीटर फ्रीस्टाइल रिले में भी सोना हासिल किया. लिखित इन खेलों में अब तक कुल पांच स्वर्ण जीत चुके है.

सोमवार को तैराकी में महाराष्ट्र और तमिलनाडु ने दो-दो जबकि दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान, केरल और उत्तर प्रदेश ने एक-एक स्वर्ण जीते.

महाराष्ट्र के लिए केनिशा गुप्ता ने 50 मीटर फ्रीस्टाइल और अपेक्षा फर्नांडीज ने 200 मीटर बटरफ्लाई में स्वर्ण जीते. केनिशा का यह तीसरा व्यक्तिगत और अपेक्षा का दूसरा पदक है.

पदकों के मामले में सोमवार को कर्नाटक को सबसे ज्यादा फायदा हुआ लेकिन ओवरऑल पदक तालिका के शीर्ष चार स्थानों में कोई बदलाव नहीं हुआ. मेजबान महाराष्ट्र 59 स्वर्ण, 48 रजत और 59 कांस्य पदकों के साथ कुल 166 पदक लेकर टॉप पर बना हुआ है.

दिल्ली कुल 115 पदकों (43 स्वर्ण, 31 रजत और 41 कांस्य) के साथ दूसरे जबकि हरियाणा कुल 107 पदकों (36 स्वर्ण, 34 रजत और 37 कांस्य) के साथ तीसरे नंबर पर कायम है.

कर्नाटक छह स्वर्ण पदक जीतने के बावजूद चौथे नंबर पर बरकरार है. कर्नाटक के अब 25 स्वर्ण, 22 रजत और 13 कांस्य हो गए हैं जिससे उसके कुल पदकों की संख्या 60 हो गई है.

तमिलनाडु और उत्तर प्रदेश ने अंक तालिका में स्थानों की अदला बदली की. तमिलनाडु सोमवार को चार स्वर्ण जीतते हुए 21 स्वर्ण, 29 रजत और 17 कांस्य पदकों के साथ कुल 67 पदक लेकर पांचवें स्थान पर पहुंच गया है जबकि सोमवार को सिर्फ दो स्वर्ण जीतने के कारण यूपी की टीम छठे स्थान पर खिसक गई है.

यूपी के खाते में हालांकि तमिलनाडु से अधिक 71 पदक हैं लेकिन रजत पदकों के मामले में वह पिछड़ गया है. यूपी के खाते में 21 स्वर्ण, 21 रजत और 29 कांस्य पदक है.

हॉकी के फाइनल में हरियाणा ने पंजाब को 1-0 से हराकर लड़कों के अंडर-17 वर्ग का खिताब जीता.

निशानेबाजी में चंडीगढ़ के दो भाइयों-उदयवीर सिद्धू और विजयवीर सिद्धु की जोड़ी ने कमाल का प्रदर्शन किया और दो पदक जीते.

उदयवीर ने लड़कों के अंडर-17 वर्ग के 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा का स्वर्ण जबकि विजयवीर को लड़कों के अंडर-21 वर्ग के 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा में रजत पदक से संतोष करना पड़ा.

लड़कों के अंडर-21 वर्ग के 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा में जूनियर विश्व कप में स्वर्ण पदक जीत चुके पंजाब के अर्जुन सिंह चीमा ने विजयवीर को हराकर स्वर्ण पदक जीता.

DO NOT MISS