Cricket News

VIDEO: धोनी ने कुछ इस तरह फुर्ती दिखाते हुए तिरंगे को जमीन पर छूने से रोका, हर कोई हो गया दिवाना

Written By Neeraj Chouhan | Mumbai | Published:

महेंद्र सिंह धोनी ने रविवार को दिखा दिया कि उनके लिये भारतीय तिरंगा कितना अनमोल है क्योंकि न्यूजीलैंड के खिलाफ यहां तीसरे टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच के दौरान उनका एक प्रशंसक सुरक्षा घेरे को तोड़ता हुआ मैदान पर पहुंच गया जिसके हाथ में भारतीय तिरंगा था जो मैदान को छूने वाला था लेकिन इस विकेटकीपर ने ऐसा नहीं होने दिया।

धोनी का यह प्रशंसक पूर्व भारती कप्तान के पैर को छूने के लिये झुका लेकिन ऐसे करते हुए उसके दायें हाथ से तिरंगा धरती से छूने वाला था। लेकिन धोनी जिस फुर्ती से स्टपिंग करते हैं, उन्होंने तुरंत ही इसे देखकर ऐसी प्रतिक्रिया की और प्रशंसक के हाथ से तिरंगा पकड़ लिया।

यह घटना न्यूजीलैंड की पारी के दौरान हुई थी जिसमें मेजबानों ने 212 रन बनाये थे। यह धोनी का छोटे प्रारूप में 300वां मैच था जिसमें 199 आईपीएल मैच शामिल हैं

इससे पहले कोलिन मुनरो की अगुआई में बल्लेबाजों के दमदार प्रदर्शन की बदौलत न्यूजीलैंड ने बड़े स्कोर वाले तीसरे और अंतिम टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में भारत को चार रन से हराकर तीन मैचों की श्रृंखला 2-1 से जीत ली।

इसके साथ ही भारत का लगातार 10 श्रृंखला से जारी अजेय अभियान भी थम गया। भारत ने पिछली टी20 श्रृंखला 2017 में वेस्टइंडीज के खिलाफ गंवाई थी।

न्यूजीलैंड के 213 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारतीय टीम विजय शंकर (43), कप्तान रोहित शर्मा (38) और ऋषभ पंत (28) की पारियों के बावजूद छह विकेट पर 208 रन ही बना सकी। दिनेश कार्तिक (16 गेंद में नाबाद 33, चार छक्के) और कृणाल पंड्या (13 गेंद में नाबाद 26, दो चौके, दो छक्के) ने सातवें विकेट के लिए 4 . 4 ओवर में 63 रन की साझेदारी की लेकिन टीम को जीत नहीं दिला सके।

न्यूजीलैंड की ओर से डेरिल मिशेल और मिशेल सेंटनकर ने क्रमश: 27 और 32 रन देकर दो-दो विकेट चटकाए। 

इससे पहले मुनरो ने 40 गेंद में पांच छक्कों और पांच चौकों की मदद से 72 रन की पारी खेलने के अलावा टिम सीफर्ट (43) के साथ पहले विकेट के लिए 80 और कप्तान केन विलियनसन (27) के साथ दूसरे विकेट के लिए 55 रन की साझेदारी की जिससे न्यूजीलैंड ने चार विकेट पर 212 रन बनाए।

कोलिन डि ग्रैंडहोम (30) और डेरिल मिशेल (11 गेंद में नाबाद 19) ने अंत में चौथे विकेट के लिए 3.2 ओवर में 43 रन जोड़कर टीम का स्कोर 200 रन के पार पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई। 

भारत की ओर से कुलदीप यादव सबसे सफल गेंदबाज रहे जिन्होंने चार ओवर में 26 रन देकर दो विकेट हासिल किए। कृणाल पंड्या ने चार ओवर में 54 जबकि उनके छोटे भाई हार्दिक पंड्या ने चार ओर में 44 रन लुटाए। खलील अहमद ने भी 47 रन देकर एक विकेट हासिल किया। किसी द्विपक्षीय श्रृंखला में ये तीनों गेंदबाज सबसे अधिक रन खर्च करने वाले भारतीय गेंदबाज बन गए हैं। हार्दिक ने मौजूदा श्रृंखला के तीन मैचों में 131, खलील ने 122 जबकि कृणाल ने 119 रन लुटाए।

 

DO NOT MISS