PC-Twitter/BCCI
PC-Twitter/BCCI

Cricket News

कोहली के शतक के बाद तेज गेंदबाजों का ढाया कहर

Written By Press Trust of India (भाषा) | Mumbai | Published:

 विराट कोहली ने गुलाबी गेंद की परीक्षा में पूरी तरह से खरा उतरे हुए शनिवार को यहां बेहतरीन शतक जमाया जिसके बाद भारतीय तेज गेंदबाजों ने बांग्लादेश के शीर्ष क्रम को लड़खड़ाकर दूसरे और अंतिम टेस्ट क्रिकेट मैच को जल्द खत्म करने की राह पर अग्रसर कर दिया।

कोहली ने 194 गेंदों पर 136 रन बनाये और वह दिन रात्रि टेस्ट मैच में शतक जड़ने वाले पहले भारतीय बल्लेबाज बन गये हैं। भारत ने अपनी पहली पारी नौ विकेट पर 347 रन बनाकर घोषित की और इस तरह से 241 रन की बढ़त हासिल की।

पहली पारी में केवल 106 रन बनाने वाले बांग्लादेश की शुरुआत फिर से खराब रही और उसने दूसने दिन चाय के विश्राम तक सात रन के अंदर दो विकेट गंवा दिये थे। बांग्लादेश के दोनों विकेट इशांत शर्मा ने लिये। भारत ने इस तरह से घरेलू सरजमीं पर लगातार 12वीं श्रृंखला जीतने की तरफ मजबूत कदम बढ़ा दिये हैं।

भारतीय तेज गेंदबाजों का बांग्लादेश के बल्लेबाजों में आतंक का यह आलम था कि मोहम्मद मिथुन सिर पर चोट खाने वाले उसके तीसरे बल्लेबाज बने। वह इशांत के बाउंसर को झुककर नहीं खेल पाये। इससे पहले मोहम्मद शमी के बाउसंर पर उसके दो बल्लेबाज (लिटन दास और नईम हसन) चोटिल हो चुके हैं और उनकी जगह स्थानापन्न खिलाड़ियों को लेना पड़ा।

भारत ने दूसरी पारी की शुरुआत में स्लिप में चार क्षेत्ररक्षकों को रखकर अपने इरादे जतला दिये थे। इशांत ने शादमान इस्लाम को पगबाधा करके भारत को पहली सफलता दिलायी। तब बांग्लादेश का खाता भी नहीं खुला था। इस तेज गेंदबाज ने कप्तान मोमिनुल हक को खाता भी नहीं खोलने दिया।

इससे पहले कोहली ने 59 रन से अपनी पारी आगे बढ़ायी। वह शानदार लय में दिखे। उन्होंने अपना 27वां टेस्ट शतक पूरा किया।

कोहली ने ताइजुल इस्लाम पर स्क्वेयर लेग में शाट लगाकर अपना शतक पूरा किया। उपकप्तान अजिंक्य रहाणे ने भी 51 रन की पारी खेली जो उनका लगातार चौथा अर्धशतक है। वह इस्लाम की गेंद पर प्वाइंट में कैच देकर आउट हुए।

वहीं टेस्ट क्रिकेट में बतौर कप्तान 5000 रन पूरे करने वाले पहले भारतीय बने कोहली ने अपने करियर का 70वां अंतरराष्ट्रीय शतक बनाया। उन्होंने शतक पूरा करने के बाद तेजी दिखायी और अबू जायेद पर लगातार चार चौके लगाये। ताईजुल ने सीमा रेखा पर बेहतरीन कैच लेकर उनकी पारी का अंत किया जिसमें 18 चौके शामिल हैं।

उन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में तीनों प्रारूपों को मिलाकर बतौर कप्तान सबसे ज्यादा 41 शतक के आस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग के रिकार्ड की बराबरी कर ली । कोहली ने हालांकि उनसे आधी पारियों (188) में यह रिकार्ड बनाया ।

कोहली उस समय क्रीज पर आये जब भारत का स्कोर दो विकेट पर 43 रन था । कप्तान ने संभलकर खेलते हुए ईडन गार्डन्स पर लगातार दूसरा शतक लगाया। उन्होंने नवंबर 2017 में यहां श्रीलंका के खिलाफ भी शतक बनाया था।

कोहली के आउट होने के बाद भारत के पुछल्ले बल्लेबाज ज्यादा देर तक नहीं टिके जिसके बाद कप्तान ने पारी समाप्त घोषित करने का फैसला किया। बांग्लादेश की तरफ से इबादत हुसैन और अल अमीन हुसैन ने तीन - तीन जबकि अबू जायेद ने दो विकेट लिये।

इससे पहले पूर्व विश्व चैम्पियन विश्वनाथन आनंद और मौजूदा चैम्पियन मैग्नस कार्लसन ने ईडन की घंटी बजाकर दूसरे दिन का खेल शुरू किया।
 

DO NOT MISS