Cricket News

भारत से हार हमारे लिए टर्नींग प्वाइंट साबित हुआ: स्टार्क

Written By Press Trust of India (भाषा) | Mumbai | Published:

आईसीसी विश्व कप में लगातार पांचवीं जीत दर्ज करने वाले ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज मिशेल स्टार्क का मानना है कि भारत के खिलाफ तीसरे मुकाबले को गंवाने के बाद गत चैम्पियन टीम के लिए चीजें बदलनी शुरू हुई। 

ऑस्ट्रेलिया सेमीफाइनल के लिए क्वालीफाई करने वाली एकमात्र टीम है, जिसने अपने आठ में से सात जीते हैं। शनिवार को न्यूजीलैंड के खिलाफ 86 रन की जीत दर्ज कर टीम ने अंक तालिका में शीर्ष पर अपनी स्थिति मजबूत कर ली। 

न्यूजीलैंड के खिलाफ प्रभावशाली जीत दर्ज करने के बाद स्टार्क ने कहा, ‘‘भारत के खिलाफ मुकाबले के बाद से हमने बीच के ओवरों में नियमित रूप से विकेट लिए हैं। मुझे लगता है हमने आक्रामक होने की जगह योजना के हिसाब से चीजों को किया।’’ 

विश्व कप में ऑस्ट्रेलिया को एकमात्र हार का सामना भारत के खिलाफ करना पड़ा, जिसने पांच बार के चैंपियन को 36 रन से हराया था। स्टार्क का मानना ​​है कि इस हार के बाद उनके खेल में सुधार आया।

यह भी पढ़े- भारत और इंग्लैंड के बीच आज महामुकाबला, अंग्रेजों को चित करने ऑरेंज जर्सी में मैदान में उतरेगी टीम इंडिया

उन्होंने कहा, ‘‘भारत के खिलाफ हम पूरी तरह से लय में नहीं थे। मुझे लगता है कि भारत के खिलाफ मैच के बाद से चीजें बदलनी शुरू हो गयी क्योंकि उसके बाद हमें बल्लेबाजी और गेंदबाजी में सुधार करने पर जोर दिया और वहां से टीम में सुधार जारी है।’’ 

स्टार्क ने न्यूजीलैंड के खिलाफ 26 रन देकर पांच विकेट चटकाये जिससे उन्होंने विश्व कप में तीसरी बार पांच विकेट लेने का रिकार्ड कारनामा किया। विश्व कप में उनके नाम 46 विकेट है और वह इस टूर्नामेंट में सर्वाधिक विकेट चटकाने वालो की सूची में छठे पायदान पर है। स्टार्क को हालांकि जो बात खास बनाती है वह है 12.97 की उनकी कामल की औसत।

पिछली बार (2015 विश्व कप) मैन ऑफ द टूर्नामेंट रहे स्टार्क ने कहा, ‘‘ अगर हम विश्व कप नहीं जीते तो रिकार्ड का कोई मतलब नहीं। मैं इस टीम में अपनी भूमिका निभा रहा हूं और योगदान देना जारी रख रहा हूं।’’ 

यह भी पढ़े- मोहम्मद शमी: परिवार में कलह, फिटनेस से जंग जैसी परिस्थितियों में फॉर्म बरकरार रख मिसाल बनकर उभरे

DO NOT MISS