Cricket News

शाहिद अफरीदी के विवादित बयान पर सुरेश रैना का कड़ा पलटवार, पाकिस्तान को बुलाया ‘भिखारी’ देश

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान शाहिद अफरीदी के हालिया बयान पर मशहूर भारतीय क्रिकेटर सुरेश रैना ने मुंहतोड़ जवाब दिया है। जब रविवार को अफरीदी ने पाक अधिकृत कश्मीर के बाग़ इलाके में भारत और पीएम मोदी के खिलाफ अपत्तिनाजक भाषण दिया तो देश के क्रिकेटर आग बबूला हो गए।

सुरेश रैना ने ट्वीट करते हुए लिखा-“हे भगवान! इंसान को प्रासंगिक बने रहने के लिए क्या करना चाहिए। एक ऐसे देश को क्या करना चाहिए जो भीख पर जी रहा है। इसलिए अपने असफल देश के लिए कुछ बेहतर करें और कश्मीर छोड़ दें। मैं एक प्राउड कश्मीरी हूं और ये भारत का एक अविभाज्य हिस्सा था, है और हमेशा रहेगा। जय हिन्द।”

पीओके में राहत सामग्री देने गए अफरीदी ने पीएम मोदी पर कश्मीर के लोगों को धर्म के आधार पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है। अफरीदी ने यह भी कहा कि भारतीय सेना ने जम्मू-कश्मीर में सीमा के पास उतने सैनिक तैनात कर रखे हैं जितनी पूरी पाकिस्तानी सेना है। अपने नफरत वाले बयान में अफरीदी ने आगे कहा कि भारतीय कश्मीर के लोग भी पाकिस्तानी सेना का समर्थन करते हैं।

उनके इस बयान पर युवराज सिंह, गौतम गंभीर, हरभजन सिंह और शिखर धवन जैसे दिग्गज खिलाड़ियों ने भी अपना गुस्सा जाहिर किया है।

युवराज ने कहा कि एक भारतीय होने के नाते वह अपने देश के खिलाफ ऐसे शब्द नहीं सुन सकते और वह भविष्य में कभी भी अफरीदी का साथ नहीं देंगे। उनकी ये बात हरभजन सिंह ने भी दोहराई है। बता दें कि युवराज और हरभजन ने कुछ समय पहले लोगों से शाहिद अफरीदी के फाउंडेशन में दान देने की अपील की थी। लेकिन अब दोनों भारतीय क्रिकेटरों का कहना है कि चाहे कुछ हो जाये, वे दोबारा अफरीदी का साथ नहीं देंगे।

शिखर ने भी अपनी नाराजगी व्यक्त की है। उन्होंने लिखा-“इस वक्त जब सारी दुनिया कोरोना से लड़ रही है, उस वक्त भी तुमको कश्मीर की पड़ी है। कश्मीर हमारा था, हमारा है और हमारा ही रहेगा। चाहिए 22 करोड़ ले आओ। हमारा एक, सवा लाख के बराबर है। बाकी गिनती अपने आप कर लेना शाहिद अफरीदी।''

वही पूर्व क्रिकेटर और भाजपा सांसद गौतम गंभीर ने लिखा-“पाकिस्तान के पास सेना के सात लाख जवान हैं जिन्हें 20 करोड़ लोगों का समर्थन है- यह कहना है 16 साल के शाहिद अफरीदी का। फिर भी वे लोग 70 साल से कश्मीर की भीख मांग रहे हैं। अफरीदी, इमरान (खान) और (कमर जावेद) बाजवा जैसे जोकर पाकिस्तान के लोगों को मूर्ख बनाने के लिये भारत और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ जहर उगल सकते हैं लेकिन आखिर तक उन्हें कश्मीर नहीं मिलेगा, बांग्लादेश याद है न?''

साक्षी बंसल की रिपोर्ट