Shikhar Dhawan instagram
Shikhar Dhawan instagram

Cricket News

शिखर धवन लगा रहे थे झाड़ू, बेटे ने दिया ऐसा आईडिया कि सभी इंप्रेस हो गए

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

लॉकडाउन में सभी के अनोखे टैलेंट निकलकर बाहर आ रहे हैं भारतीय क्रिकेटर शिखर धवन ने भी एक वीडियो साझा किया है जिसमें उनके बेटे जोरावर बड़े अनोखे तरीके से कचरा सांफ करने में उनकी मदद कर रहे हैं। शिखर का ये वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।

वीडियो की शुरुआत क्रिकेटर के झाड़ू लगाने से होती है लेकिन इसमें ट्विस्ट लाते हैं उनके बेटे जोरावर। वह अपनी पिता की मदद करने के लिए आगे आते हैं और एक नए तरीके से कचरा उठाने में उनकी मदद करते हैं। उन्होंने अपनी रिमोट कंट्रोल कार से डस्टिंग पैन को जोड़ दिया जिसका रिमोट जोरावर के हाथों में है। इससे शिखर आसानी से कचरा पैन में भर पा रहे हैं। देखिये यहाँ-

वीडियो देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

उनके पिता इस टैलेंट से खासे इंप्रेस नजर आ रहे हैं। वीडियो के साथ उन्होंने कैप्शन में लिखा-“जोरावर ने दिखा दिया कि बॉस कौन है। क्या आईडिया है सर जी।”

इस दौरान, शिखर अपने परिवार के साथ ही लॉकडाउन बिता रहे हैं। उन्होंने अपने घर के अन्दर ही एक छोटा सा प्लेग्राउंड बना दिया है जिसमें दोनों बाप-बेटे क्रिकेट खेलते नजर आते हैं। उन्होंने जो वीडियो साझा किया है उसमें बैकग्राउंड कमेंटरी भी सुनाई दे रही है जिससे खेल का अनुभव और भी वास्तविक लगता है।

ये भी पढ़ें: भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी का खुलासा, तीन बार आत्महत्या करने की सोची थी

क्वारंटाइन में क्रिकेटर अपनी पत्नी आयशा और बेटे जोरावर के साथ बॉक्सिंग की भी जमकर प्रैक्टिस कर रहे हैं। वह सोशल मीडिया पर अपनी बॉक्सिंग प्रैक्टिस के कई वीडियो साझा कर चुके हैं। साथ ही वह फैंस के साथ अपने वर्कआउट वीडियो भी साझा करते हैं।

इस बीच, कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते सारे स्पोर्ट्स टूर्नामेंट्स रद्द कर दिए गए हैं। इंडिया का त्यौहार कहा जाने वाला IPL भी पोस्टपोन हो गया है जिससे क्रिकेट लवर्स उदास हैं। पिछले साल हुई ट्रेड डील में Delhi Capitals  ने शिखर को खरीद लिया था। इससे पहले वह Sunrisers Hyderabad के लिए खेलते थे। अपने IPL के इतिहास में उन्होंने अबतक 159 मैच खेले हैं जिसमें उन्होंने 4,579 रन बनाये।

ये भी पढ़ें: नेहरा और हरभजन ने कहा, थूक और पसीने की जगह वैसलीन नहीं ले सकती

साक्षी बंसल की रिपोर्ट