Cricket News

Ind Vs Eng: भारत की जीत की दुआ कर रहे PAK फैंस के मुंह से पहले कभी नही सुनेंगे ऐसे नारे, VIDEO वायरल

Written By Neeraj Chouhan | Mumbai | Published:

इंग्लैड में चल रहा क्रिकेट का 'महायुद्ध' यानि वर्ल्ड कप 2019 में बेहद रोमांचक मोड़ पर पहुंच चुका है। जहां अब किसी टीम का हार जीत का आसार इस टूर्नामेंट का 38वां मैच रविवार को मेजबान इंग्लैंड और भारत के बीच खेला जाएगा। माना जा रहा है ये मैच जितकार भारत सेमीफाइनल में अपनी जगह पक्की कर लेगा और ऐसे में इंग्लैड को टूर्नामेंट से बाहर का रास्ता देखना पड़ा सकता है।

लिहाजा दोनों टीम के फैंस जहां अपनी- अपनी टीम की जीत की दुआ कर रहे हैं। लेकिन ये क्रिकेट का ही रोमांच कहिए कि भारत- इंग्लैड के अलावा पाकिस्तान के लोग भी इस मैच की नतीजे पर नजर गढ़ाए हुए हैं। भारत का चिर प्रतिद्वंदी माने जाने वाला पाकिस्तान का अब सेमीफाइनल में जाना काफी हद तक भारत की जीत पर ठिका है। इसलिए मजबूरन पाकिस्तानी फैंस को इस मैच में भारत को सपोर्ट करना पड़ा रहा है।

इसका जीता जागता सबूत बना तेजी से वायरल हो रहा है वीडियो जहां पाकिस्तनी फैंस  भारत की जीत के लगे नारे लगा रहे हैं और भारत की जीत की दुआ कर रहे हैं। वायरल वीडियो में पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर रमीज राजा ने जब पाकिस्तानी फैंस से पूछा कि आप लोग भारत-इंग्लैड मैच में किसो सपोर्ट करोगे, तो जवाब में वहां मौजूद लोग भारत की जीत के लगे नारे।  

अफगानिस्तान के खिलाफ पाकिस्तान की जीत के बाद इंग्लैंड का वर्ल्ड कप में उम्मीदें जिंदा रखना और भी मुश्किल हो गया है। वहीं आंकड़े गवाह है कि क्रिकेट का जन्मदाता इंग्लैंड वर्ल्ड कप के इतिहास में भारत पर कभी हावी नहीं रहा। 

अब तक वर्ल्ड कप में दोनों टीमों के बीच कुल 7 मुकाबले खेले गए हैं। जिनमें से तीन भारत और तीन इंग्लैंड ने जीते हैं। जबकि एक मैच टाई रहा था।

वहीं हाल ही में विराट ब्रिगेड ICC वनडे रैंकिंग में इंग्लैंड को धूल चटाकर नंबर 1 के पायदान पर पहुंच गया है। यानि साफ है कि मौजूदा स्थिति में क्रिकेट के लिहाज से भारत हर क्षेत्र में इंग्लैंड पर हावी है। 

इंग्लैंड ने इस वर्ल्ड कप में 7 में से 3 मैच हारे हैं। पहला मैच पाकिस्तान से 14 रन से हारा था जबकि श्रीलंका के खिलाफ इंग्लैंड को 20 रन से शर्मनाक हार झेलनी पड़ी थी। प्वाइंट्स टेबल में शीर्ष पर काबिज ऑस्ट्रेलिया ने 64 रन से इंग्लैंड को करारी शिकस्त दी थी।