Cricket News

सनराइजर्स के खिलाफ एलिमिनेटर जीतकर खुद को साबित करना चाहेगी दिल्ली कैपिटल्स

Written By Press Trust of India (भाषा) | Mumbai | Published:

 दिल्ली कैपिटल्स के लिये आईपीएल फाइनल में प्रवेश की राह भले ही मुश्किल हो गई हो लेकिन बाधाओं को पार करके यहां तक पहुंची टीम बुधवार को सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ एलिमिनेटर जीतकर खुद को साबित करना चाहेगी ।

इंडियन प्रीमियर लीग के 12वें सत्र की शुरूआत से पहले आमूलचूल बदलाव करने वाली दिल्ली कैपिटल्स इस सत्र की सबसे मजबूत टीमों में से रही । अब तक निचले हाफ में रहने वाली दिल्ली अंकतालिका में शीर्ष पर पहुंची जिसे रिकी पोंटिंग जैसे कोच और सौरव गांगुली जैसे सलाहकार से विजयी तेवर मिले हैं ।

चौदह मैचों में नौ जीत और पांच हार के बाद 18 अंक हासिल करने वाली दिल्ली टीम की बदकिस्मती रही कि उसे करो या मरो का एलिमिनेटर खेलना पड़ रहा है । 

हैदराबाद से तीन मैच ज्यादा जीतने के बावजूद वह उसके खिलाफ यह मैच खेल रही है जबकि आखिरी लीग मैच से पहले उसका शीर्ष दो में रहना तय लग रहा था । चेन्नई सुपर किंग्स से हारने से उन्हें काफी नुकसान हुआ । उससे पहले दिल्ली की टीम चेन्नई और मुंबई इंडियंस के साथ पहले स्थान की होड़ में थी ।

दिल्ली आईपीएल में कभी फाइनल तक नहीं पहुंची और शीर्ष दो में नहीं रही । शीर्ष चार में भी वह 2012 के बाद पहली बार पहुंची । मुंबई के खिलाफ शानदार शुरूआत के बाद दिल्ली को चेन्नई ने हराया । किंग्स इलेवन पंजाब और सनराइजर्स ने उन्हें मात दी । उसके बाद से दिल्ली के प्रदर्शन में लगातार सुधार आता गया । 

भारत के सलामी बल्लेबाज शिखर धवन अब तक 450 रन बना चुके हैं । युवा पृथ्वी साव , कप्तान श्रेयस अय्यर, विश्व कप टीम में नहीं चुने गए ऋषभ पंत ने अहम मौकों पर उम्दा प्रदर्शन किया है । दिल्ली को टूर्नामेंट में अब तक 25 विकेट ले चुके दक्षिण अफ्रीका के कागिसो रबाडा की कमी खलेगी जो विश्व कप की तैयारी के लिये स्वदेश लौट गए हैं ।

वहीं डेविड वार्नर और जानी बेयरस्टा के जाने के बाद से हैदराबाद की टीम कमजोर हुई है । आईपीएल के इतिहास में 12 अंक लेकर प्लेआफ में पहुंचने वाली यह पहली टीम बनी है ।

गेंदबाजी में अफगानिस्तान के स्पिनर रशीद खान, तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार और खलील अहमद ने उम्दा प्रदर्शन किया है । केन विलियमसन के रूप में उनके पास भरोसेमंद कप्तान है और मार्टिन गुप्टिल से आक्रामक आगाज की उम्मीद होगी । विजय शंकर के पास विश्व कप से पहले अपनी छाप छोड़ने का यह एक और मौका है । 

टीमें : 

दिल्ली कैपिटल्स : श्रेयस अय्यर (कप्तान), पृथ्वी साव, शिखर धवन, ऋषभ पंत, कोलिन इंगराम, शेरफेन रदरफोर्ड, कीमो पाल, अक्षर पटेल, अमित मिश्रा, ईशांत शर्मा, ट्रेंट बोल्ट । 

सनराइजर्स हैदराबाद : केन विलियमसन (कप्तान), रिधिमान साहा, मार्टिन गुप्टिल, मनीष पांडे, विजय शंकर, युसूफ पठान, मोहम्मद नबी, रशीद खान, भुवनेश्वर कुमार, के खलील अहमद । 

DO NOT MISS