Cricket News

गौतम गंभीर ने फिर दिया शाहिद अफरीदी को करारा जवाब

Written By Press Trust of India (भाषा) | Mumbai | Published:

भारतीय टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर और पाकिस्तान के पूर्व हरफनमौला शाहिद अफरीदी के बीच अपने खेलने के दिनों में मैदान पर और पिछले कुछ अर्से से सोशल मीडिया पर तकरार जगजाहिर है और गंभीर ने एक बार फिर अफरीदी को करारा जवाब देते हुए 2007 विश्व कप के फाइनल की याद दिलायी।

ताजा मामला अफरीदी की आत्मकथा ‘गेम चेंजर’ में गंभीर के बारे में लिखी गई घटना के मीडिया में आने के बाद का है। यह किताब पिछले साल जारी हुई है।


अफरीदी ने इसमें गंभीर के व्यवहार और रिकार्ड पर सवाल उठाते हुए कहा कि उसके साथ ‘एटीट्यूड’ की समस्या है।

किताब के इस अंश का मीडिया में जिक्र होने के बाद गंभीर ने ट्विटर के जरिये अफरीदी को जवाब दिया । उन्होंने शनिवार को कहा, ‘‘जिसे अपनी उम्र याद नहीं , वह मेरे रिकार्ड को कैसे याद रखेगा। अफरीदी मैं आपको एक रिकार्ड याद दिलाता हूं। 2007 में टी20 विश्व कप का फाइनल, मुकाबला भारत बनाम पाकिस्तान था। गंभीर ने 54 गेंद में 75 रन बनाये थे जबकि अफरीदी ने एक गेंद में शून्य रन।’’

भारतीय खिलाड़ी ने कहा, ‘‘ इससे भी जरूरी चीज यह हम विश्व कप जीते। और हां, मैं झूठे, देशद्रोही और अवसरवादियों के प्रति सख्त रवैया रखता हूँ।’’

अफरीदी ने अपनी किताब में लिखा है कि उन्हें गौतम गंभीर और दिग्गज लेग स्पिनर शेन वॉर्न के खिलाफ खेलना बहुत पसंद था क्योंकि ये दोनों ही छींटाकशी पर प्रतिक्रिया देते थे।

उन्होंने गंभीर के बारे में लिखा, ‘‘कुछ प्रतिद्वंद्विता व्यक्तिगत थी, कुछ पेशेवर। लेकिन गंभीर का मामला अलग था। बहुत खराब गौतम। उसका व्यवहार अच्छा नहीं था।’’

अफरीदी ने 2007 एशिया कप का भी जिक्र करते हुए कहा कि वह रन दौड़ते समय मुझ से भिड़ गया था , तब अंपायर को दखल देना पड़ा।

इससे पहले जब जम्मू कश्मीर से विशेष दर्जा वापिस लिया गया था, तब भी अफरीदी ने इसके विरोध में ट्वीट किया था जिसका उस समय गंभीर ने माकूल जवाब दिया था।