Cricket News

धोनी ने कहा भारत-पाक सीरीज पर सरकार ही ले आखरी फैसला

Written By Gaurav Kumar | Mumbai | Published:

भारतीय टीम के विस्फोटक बल्लेबाज और सबके चहेते महेंद्र सिंह धोनी ने रविवार को जम्मू और कश्मीर के बारामुला में आर्मी द्वारा आयोजित क्रिकेट मैच में हिस्सा लिया. इस मौके पर धोनी ने कहा भारत और पाकिस्तान के बीच क्रिकेट महज एक खेल नहीं उससे कहीं अधिक बढ़कर है. भारत और पाकिस्तान के बीच क्रिकेट पर सोचने के लिए सरकार बेस्ट जज है और द्विपक्षीय सीरीज पर सरकार का अंतिम फैसला होना चाहिए. 

इस मौके पर कैप्टन कूल महेंद्र सिंह धोनी ने लोकल खिलाड़ियों को भी क्रिकेट की बारिकियों से अवगत कराया. आपको बता दें कि भारत और पाकिस्तान के बीच आखरी बार साल 2012-13 में सीरीज खेली गई थी.  यह सीरीज भारत में हुई थी. वहीं जून 2014 में बीसीसीआई और पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने एक साथ मेलर्बन में एक एग्रीमेंट साइन किया था जिसमें दोनों देशों के बीच साल 2015 से लेकर साल 2023 तक करीब छ: द्विपक्षीय सीरीज खेलने का करार हुआ था.

वहीं इससे पहले भारत सरकार ने एशिया कप 2018 को देश से बाहर कराने की बात कही थी. रिपब्लिक टीवी से खास बातचीत में गृह मंत्रालय ने कहा था ''पाकिस्तान के साथ भारत में क्रिकेट संभव नहीं है''. भारत ''एशिया कप'' को जून 2018 में होस्ट करने वाला था लेकिन लाहौर हाई कोर्ट द्वारा 26/11 हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद को क्लिन चिट दिए जाने के बाद गृह मंत्रालय एशिया कप को देश से बाहर कराने की बात कर रही है. सईद कि रिहाई के बाद भारत ने यह स्टैंड लिया है और पाकिस्तान को भारत में खेलने का परमिशन देने से मना कर दिया है. सरकार का कहना है कि क्रिकेट से कहीं ज्यादा महत्वपूर्ण नेशनल इंटरेस्ट है. 

कई बार दोनों देशों के बीच फिर से क्रिकेट बहाल करने करने की वकालत होती रहती है. भारत और पाकिस्तान के बीच कई सालों से मुकाबला सिर्फ आईसीसी द्वारा आयोजित टूर्नामेंट में ही दिखाई पड़ता है.
 

DO NOT MISS