Cricket News

बच्चियों को यौन हिंसा का शिकार बनाने वालों को सख्त सजा देना जरूरी : मायावती

Written By Press Trust of India (भाषा) | Mumbai | Published:

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की अध्यक्ष मायावती ने कठुआ बलात्कार मामले के दोषियों को अदालत द्वारा सख्त सजा सुनाये जाने के बाद, मंगलवार को उम्मीद जतायी है कि इससे आपराधिक प्रवृत्ति वालों में डर पैदा होगा।। उन्होंने कहा कि देश में सभी जगह इस तरह के मामलों में दोषियों को सख्त सजा देने की जरूरत है।

मायावती ने ट्वीट कर कहा, ‘‘अदालत द्वारा कठुआ की मासूम बच्ची से बलात्कार और फिर हत्या के मामले में तीन दोषियों को उम्रकैद और तीन अन्य को पांच साल कैद की सज़ा देने के बाद, संभव है कि लोगों में कानून का कुछ डर पैदा हो और वे दरिन्दगी से बाज आयें।’’

उल्लेखनीय है कि जम्मू-कश्मीर के कठुआ में आठ वर्षीय खानाबदोश लड़की से सामूहिक बलात्कार और हत्या के सनसनीखेज मामले में तीन मुख्य दोषियों को सोमवार को पठानकोट स्थित अदालत ने आजीवन कारावास की सजा सुनाई जबकि साक्ष्यों को नष्ट करने के जुर्म में तीन अन्य को पांच वर्ष कैद की सजा सुनाई।

मायावती ने कहा, ‘‘कानून द्वारा कानून का राज कायम करने हेतु देश में हर जगह ऐसी सज़ायें देना जरूरी लगता है।’’

वहीं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी अदालत के फैसले का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि आरोपियों पर कोई रहम नहीं किया जाना चाहिये क्योंकि उन्होंने मानवता के खिलाफ अपराध किया है।

आम आदमी पार्टी प्रमुख ने एक ट्वीट में कहा, ‘‘कठुआ में नाबालिग लड़की से सामूहिक बलात्कार और उसकी हत्या मामले में अदालत के फैसले का स्वागत करता हूं। जिन राक्षसों ने कठुआ और अलीगढ़ जैसा जघन्य अपराध किया, वे मिसाल दिये जाने योग्य सजा के हकदार हैं और मानवता के खिलाफ अपराध करने वालों पर कोई रहम नहीं होना चाहिये।’

DO NOT MISS