R bharat

VIDEO: जनरल बाजवा से गले मिलने के सवाल पर बोले सिद्धू, 'जब मुझे जवाब देना होगा तो सबको दूंगा..'

Written By | Mumbai | Published:

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में क्रिकेटर से नेता बने नवजोत सिंह सिद्धू के शामिल होने पर अब विवाद बढ़ता ही जा रहा है. दरअसल शपथ ग्रहण समारोह में नवजोत सिंह सिद्धू PoK के राष्ट्रपति के साथ वाली सीट पर बैठे थे. इसके साथ ही सिद्धू पाक आर्मी चीफ जनरल बाजवा से गले भी मिले थे. इन्हीं कारणों की वजह से भारत में उनका हर तरफ विरोध हो रहा है. सिद्धू का विरोध उनकी ही पार्टी के नेता और पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह खुद कर रहे हैं. CM अमरिंदर सिंह ने इस पूरे मामले पर कहा था कि ''उन्हें पाकिस्तान के आर्मी चीफ से गले नहीं मिलना चाहिए था क्योंकि आए दिन वो हमारे सैनिकों को निशाना बनाते हैं.''

वहीं अब सोमवार को जब मीडिया ने नवजोत सिंह सिद्धू से इस मामले पर सवाल पूछा तो सिद्धू ने कहा, ''जब मुझे जवाब देना होगा तो सबको दूंगा और टिका के दूंगा..  तुम्हारे कहने पर मैं जवाब नहीं दूंगा.'' नवजोत सिंह सिद्धू बाजवा से गले मिलने को लेकर मांफी मांगने के मूड में दिखाई नहीं दे रहे हैं. बता दें, इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के बाद नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा था कि ''मैं मोहब्बत का पैगाम लाया था हिंदुस्तान से जितनी मोहब्बत मैं लाया था उससे ज्यादा मैं लेकर जा रहा हूं.. ''

वहीं भारतीय जनता पार्टी इस मामले पर कांग्रेस पार्टी पर जमकर निशाना साध रही है. बीजेपी नवजोत सिंह सिद्धू से पूछ रही है कि ऐसा पाकिस्तान ने क्या दे दिया.. सिवाय आतंकवाद और मौत के पाकिस्तान ने तो और कुछ नहीं दिया है हिंदुस्तान को तो फिर सिद्धू किस बात का धन्यवाद दे रहे हैं ?

बता दें, इमरान खान की पार्टी की तरफ से इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के लिए नवजोत सिंह सिद्धू के अलावा सुनील गावस्कर, कपिल देव और बॉलीवुड एक्टर आमिर खान को भी न्योता दिया गया था. किसी कारण सुनील गावस्कर, कपिल देव और आमिर खान शपथ ग्रहण समारोह में शामिल नहीं हुए. गौरतलब है कि सिद्धू को सोशल मीडिया पर भी पाक आर्मी चीफ से गले मिलने पर काफी आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा है. 

DO NOT MISS