R bharat

Video: अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में आतंकवादियों का गुणगान करते नहीं थके एक्टिविस्ट गौतम नवलखा

Written By | Mumbai | Published:

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में जहा इन दिनों जिन्ना को लकेर विवाद चल रहा है वही दूसरी तरफ एक वीडियो सामने आया है जिसमें अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में आयोजित एक कार्यक्रम में मंच से एक एक्टिविस्ट जिनका नाम गौतम नवलखा है. वो मंच से आतंकवादियों का महिमामंडन करते हुए दिखाई दे रहे हैं. बता दें, ये कार्यक्रम 26 अप्रैल को अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के कैनेडी हॉल में आयोजित हुई थी. इसी कार्यक्रम में गौतम नवलखा अलीगढ़ मुस्लीम यूनिवर्सीटी के रिसर्च के छात्र मनन वानी जिसने कथित तौर पर जनवरी 2018 में हिजबुल मुजाहिदीन ज्वाइन कर ली थी उसकी परिस्थितियों के बारे में बोलते नजर आ रहे हैं. 

गौतम नवलखा ने इस कार्यक्रम में कहा, ''आप ही के बीच मनन वानी .. मुझे याद है उसने 2014 में इसी कैनेडी हॉल में एक मींटिग आयोजित की थी. मेरी पहली बार और आखरी बार मनन से मुलाकात हुई. मैं अपने आप से एक सवाल उठाता रहता हूं.. वो अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी का बहुत ब्राइट छात्र था.. आखिर क्या वहज रही की उसे बंदूक उठानी पड़ी? क्यों उसको लगा की इसके सिवा उसके पास और कोई रास्ता नहीं बचा है? वो काफी संवेदनशील था''

''मेरा सवाल है कि अगर आप मनन वानी जैसे लोगों को भी मजबूर कर देते हैं की उसको बंदूक उठाने के सिवा और लड़ने के सिवा और कोई चारा नहीं बचता है तो फिर आप किस डेमोक्रेसी की बात कर रहे हैं. वो अलीगढ़ में पढ़ता था..कश्मीर में नहीं .. मतलब हिन्दुस्तान की डेमोक्रेसी भी उसको नापसंद नहीं रही क्यों?''

''आपने लोगों को बंदूक उठाने के लिए बाध्य किया है. ऑपरेशन ऑल आउट शुरू हुआ मई 2017 में ये कहकर की बस हम खत्म कर देंगे मिलीटेंसी को .. 200-300 लोग हैं .. हमारी इतनी बड़ी फौज है हम खत्म कर देंगे.. इनका तो खात्मा हो जाएगा ये तो मामूली चीज है.''

''यही सोचा था ना ..आज वहीं आर्मी चीफ कहता है आप हमें हरा नहीं सकते .. लेकिन हम भी आपको हरा नहीं सकते..''

बता दें, इस कार्यक्रम का आयोजन अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) में मोहम्मद अली जिन्ना की एक तस्वीर को लेकर चल रहे विवाद के पहले आयोजित किया गया था.  

 

DO NOT MISS