एयर होस्टेस मितांशी वैद्य(फोटो-फेसबुक)
एयर होस्टेस मितांशी वैद्य(फोटो-फेसबुक)

R bharat

इस एयर हॉस्टेस को कर रहा है हर कोई सलाम, मां के हाथ से फिसली नन्ही जान को ऐसे बचाया

Written By | Mumbai | Published:
 
 

कहते है देवदूत का कोई चेहरा नहीं होता, लेकिन जेट एयरवेट की ये एयर होस्टैस एक मां के लिए किसी देवदूत से कम नहीं है. इस एयरहोस्ट ने मुंबई एयरपोर्ट पर जो कुछ भी किया आज उसकी हर जगह प्रशांसा हो रही है और हर कोई उनके लिए तालियां बजा रहा है. 

दरअसल मितांशी वैध नाम की इस एयरहोस्टेस ने मुंबई एयरपोर्ट पर एक छोटे से को फर्श पर गिरने से बचा लिया, जो दुर्घटनावश अपनी मां की गोद फिसलकर जमीन पर गिरने वाली थी. हालांकि इस दौरान मितांशी के चेहरे पर चोट लगी, लेकिन इस सब के बावजूद उस बच्ची को उन्होंने कुछ नहीं होने दिया.  

गौरतलब है कि यह घटना जब सामने आई बच्चे की मां ने जेट एयरवेज को लेटर लिखा कर पूरा वाक्य बताते हुए मितांशी को धन्यवाद देते हुए उन्हें देवदूत करार दिया. इसके बाद जेट एयरवेज ने मितांशी की तारिफ करते हुए कहा कि उन्होंने गर्व है कि ऐसे कर्मचारी हमारे यहां काम करते हैं. 

बता दें, यह घटना पिछले महीने की है जब एक महिला अपने दस महीने के बच्चे के साथ फ्लाइट से मुंबई से अहमदाबाद जा रही थी. एयरपोर्ट पर चेक- इन की औपचारिकता पूरी होने के बाद सुरक्षा जांच के लिए जैसे ही महिला वहां पहुंची तो अचानक दुर्घटनावश उसके हाथ से बच्चे गिर गया, लेकिन पास में ही मौजूद मितांशी ने वक्त रहते हुए छलांग लगाकर बच्ची को जमीन पर गिरने से बचा लिया. 

 

 

DO NOT MISS