Politics

PM मोदी बोले - ''मैं इंतजार अब लम्बा नहीं कर सकता। चुन-चुन के हिसाब लेना मेरी फितरत है।''

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दो दिवसीय गुजरात दौरे पर हैं।  इस दौरान गुजरात के अहमदाबाद में एक साथ चार अस्पतालों का लोकार्पण करने पुहंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि 40 साल से आतंकवाद भारत मां की सीने में गोलीयां दाग रहा है लेकिन अब नहीं सकेगा। अब अगर ऐसा किसी ने किया, तो हम घर में घुसकर मारेंगे। 7वें पाताल में भी हो तो नहीं छोड़ेंगे। उन्होंने कहा  'मैं इंतजार अब लम्बा नहीं कर सकता। चुन-चुन के हिसाब लेना मेरी फितरत है।'

इस दौरान पीएम मोदी ने भारतीय वायुसेना की एयर स्ट्राइक पर सवाल उठाने वाले विपक्ष पर भी पलटवार किया। उन्होंने कहा कि एयर स्ट्राइक से विपक्ष के पेट में दर्द होता है। उन्होंने कहा कि मुझे सत्ता की परवाह नहीं है। मुझे सिर्फ देश की चिंता है। 

पीएम मोदी ने कहा कि अगर भारतीय वायुसेना का बालाकोट मिशन फेल हो जाता, तो कौन जिम्मेदार होता ? किसका इस्तीफा मांगा जाता। उन्होंने कहा कि आतंकवाद चाहे सात पाताल में क्यों न हो हम वहां घुसकर मारेंगे । ये हमारा सिद्धांत है कि घर में घुसकर मारेंगे।

पीएम मोदी ने कहा देश का दुर्भाग्य है कि कुछ नेता जो बयान बाजी करते है उन्हें पाकिस्तान के अखबारों में हैडलाइन बना दी जाती है। मैं देश को विश्वास दिलाना चाहुगां देशहित में जो फैसला होगा वह हम करेंगे।

इससे पहले  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को अहमदाबाद मेट्रो ट्रेन सेवा के पहले चरण का उद्घाटन किया। मोदी ने उद्धाटन के बाद मेट्रो से यात्रा भी की। वस्त्राल को अपैरल पार्क को जोड़ने वाले इस खंड की लंबाई 6.5 किलोमीटर है। 

प्रधानमंत्री मोदी ने वस्त्राल गांव मेट्रो स्टेशन पहुंचकर मेट्रो सेवा के पहले चरण का उद्धाघटन किया। उन्होंने हरी झंडी दिखाकर ट्रेन को रवाना किया और उसमें कुछ दूर तक सवारी भी की। 

अहमदाबाद मेट्रो का पहला चरण 40 किमी लंबा होगा। जिसमें 6.5 किमी का रास्ता भूमिगत है जबकि बाकी एलिवेटेड (खंभों पर) होगा है। इसमें दो रास्ते होंगे। पहला वस्त्राल गांव से थलतेज गांव तक और दूसरा ग्यासपुर डिपो को मोटेरा स्टेडियम से जोड़ेगा। 

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने फरवरी में अहमदाबाद मेट्रो रेल परियोजना के दूसरे चरण को भी मंजूरी दे दी है। दूसरा चरण 28 किलोमीटर से ज्यादा लंबा होगा। यह चरण मोटेरा स्टेडियम से लेकर गांधीनगर में महात्मा मंदिर को जोडे़गा। 

गुजरात मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन ने बयान में कहा , " इन मेट्रो परियोजनाओं से न सिर्फ सम्पर्क सुविधा बढ़ेगी बल्कि यात्रा समय भी कम होगा। इसके अलावा शहरी क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को सफर करने में काफी आसानी भी होगी। " 

मेट्रो सेवा यात्रियों, खासकर अहमदाबाद और गांधीनगर क्षेत्र के लोगों को आरामदायक और विश्वसनीय सार्वजनिक परिवहन सुविधा देगी। 


 

DO NOT MISS