Politics

VIDEO: राहुल गांधी बोले, 'हम चाहते हैं, आपकी शर्ट, जूते और मोबाइल फोन के पीछे ''Made By HAL'' लिखा जाए'

Written By Gaurav Kumar | Mumbai | Published:

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का इन दिनों एक वीडियो काफी ज्यादा वायरल हो रहा है बता दें, इस वीडियो में कांग्रेस अध्यक्ष लोगों को संबोधित करते हुए नजर आ रहे हैं. इस दौरान राहुल गांधी के साथ कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया भी खड़े दिखाई दे रहे हैं. बता दें, वीडियो में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी कह रहे हैं कि ''हम चाहते हैं कि आपके सेल फोन के पीछे .. आपके शर्ट के पीछे.. आपके जूते के निचे मेड इन मध्यप्रदेश लिखा जाए .. हम चाहते हैं कि मेड इन इंडिया लिखा जाए .. हम चाहते हैं कि ''Made By HAL'' लिखा जाए..

लोगों द्वारा सोशल मीडिया पर राहुल गांधी के इस वीडियो को काफी ज्यादा ट्रोल किया जा रहा है. लोग राहुल गांधी से सवाल पूछ रहे हैं कि क्या राहुल गांधी के कहने का मतलब ये है कि अब HAL शर्ट, मोबाइल और जूते बनाए ? 

गौरतलब है कि इससे पहले भी राहुल गांधी के द्वारा दिए गए भाषण का मजाक उड़ाया गया है. इससे पहले एक वीडियो में जब राहुल गांधी से उनके कैलाश मानसरोवर यात्रा के दौरान, अनुभव के बारे में पूछा गया था तो उस दौरान उन्होंने (राहुल गांधी) काफी देर तक चुप्पी साधे रखी थी फिर कुछ देर बार उन्होंने कहा था कि ''सोच बदल जाती है और एक गहराई सी आ जाती है.'' राहुल गांधी का एक अन्य वीडियो जिसमें उन्होंने राफेल विमान को 526 रुपए का बता दिया था वो भी काफी ज्यादा वायरल हुआ था. 

वहीं राफेल विवाद को लेकर मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए राहुल गांधी ने अपने ताजा ट्वीट में लिखा, ''मोदी-अंबानी का देखो खेल, HAL से छीन लिया राफेल, धन्नासेठों की कैसी भक्ति, घटा दिया सेना की शक्ति, जिस अफसर ने चोरी से रोका, ठगों के सरदार ने उसको ठोका, पिट्ठुओं को मिली शाबाशी, सेठों ने उड़ती चिड़िया फांसी, जन-जन में फैल रही है सनसनी, मिलकर रोकेंगे लुटेरों की कंपनी..''

बता दें, इन दिनों राहुल गांधी राफेल डील विवाद को लेकर केंद्र सरकार के साथ आर-पार के मूड में हैं. राहुल गांधी राफेल डील को लेकर सीधे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सवाल पूछ रहे हैं. कांग्रेस पार्टी का कहना है कि केंद्र सरकार ने HAL को राफेल डील में ऑफसेट पार्टनर क्यों नहीं बनाया. जिसपर केंद्र सरकार ने कांग्रेस पर सावल खड़े करते हुए कहा है कि HAL और डसॉल्ट के बीच करार कांग्रेस के शासनकाल में ही टूटा था. तब कांग्रेस पार्टी ने HAL के लिए पैरवी क्यों नहीं की थी?

DO NOT MISS