Politics

राहुल गांधी ने फिर उठाए सवाल, कहा- ''अब राफेल मामले में प्रधानमंत्री पर मुकदमा चलाने के पर्याप्त सबूत''

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

राफेल विमान सौदे से जुड़े दस्तावेज रक्षा मंत्रालय से चोरी होने को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को सरकार पर हमला बोला और दावा किया कि इस ‘घोटाले’ में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ मुकदमा चलाने के लिए पर्याप्त सबूत हैं।

राहुल ने आरोप लगाया कि मोदी को फंसाने वाली राफेल फाइलें जिन्हें अब ‘चोरी’ हो गया बताया जा रहा है, वह सरकार द्वारा साक्ष्य को नष्ट किया जाना और साफ तौर पर मामले को ढंकने का प्रयास है।

गांधी ने यह भी आरोप लगाया कि दस्तवेजों के ‘चोरी’ होने की बात करना सबूत को नष्ट करना और मामले पर पर्दा डालने की कोशिश है। 

उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘‘राफेल घोटाले में प्रधानमंत्री पर मुकदमा चलाने के लिए अब पर्याप्त सबूत है। भ्रष्टाचार की शुरुआत उन्हीं से होती है और उन पर ही खत्म होती है।’’ 

कांग्रेस अध्यक्ष ने दावा किया, ‘‘राफेल मामले की महत्वपूर्ण फाइलों से वह फंस रहे थे। अब सरकार ने कहा कि ये फाइलें चोरी हो गई हैं। यह सबूत को नष्ट करना और मामले पर पर्दा डालना है।’’ 

दरअसल, सरकार ने बुधवार को उच्चतम न्यायालय को बताया कि राफेल विमान सौदे से संबंधित दस्तावेज रक्षा मंत्रालय से चोरी किये गये हैं और याचिकाकर्ता इन दस्तावेजों के आधार पर विमानों की खरीद के खिलाफ याचिकायें रद्द करने के फैसले पर पुनर्विचार चाहते हैं।

प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई, न्यायमूर्ति संजय किशन कौल और न्यायमूर्ति केएम जोसेफ की पीठ ने अपने दिसंबर, 2018 के फैसले पर पुनर्विचार के लिये पूर्व मंत्री यशवंत सिन्हा और अरूण शौरी तथा अधिवक्ता प्रशांत भूषण की याचिकाओं पर सुनवाई शुरू की। 

इसे भी पढ़ें - राफेल डील की रिव्यू पिटीशन पर सुप्रीम कोर्ट में आज हो रही है सुनवाई, यहां देखें.... LIVE UPDATES

पुनर्विचार याचिकाओं में आरोप लगाया गया है कि शीर्ष अदालत में जब राफेल सौदे के खिलाफ जनहित याचिकाओं पर अपना फैसला सुनाया तो केन्द्र ने महत्वपूर्ण तथ्यों को उससे छुपाया था।