Politics

गुजरात हिंसा: तेजप्रताप का CM रूपाणी पर हमला, 'भारतीयों को प्रवासियों के तौर पर बुलाने की हिम्मत कैसे हुई ?'

Written By Amit Bajpayee | Mumbai | Published:

गुजरात में उत्तर भारतीयों पर हो रहे हमलों पर अब सियासत गरमा गई है. कांग्रेस ने बीजेपी सरकार पर असफल होने का आरोप लगाया है.  वहीं गुजरात के मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर कांग्रेस पर इन हमलों का आरोप लगाया.  इसपर  बिहार में नेता विपक्ष तेजस्वी यादव ने सीएम रूपाणी पर हमला करते हुए ट्वीट कर लिखा कि , ''श्रीमान मुख्यमंत्री, आपके सेंस को क्या हो गया  है ? आपको भारतीयों को प्रवासियों के तौर पर बुलाने की हिम्मत कैसे हुई ? या फिर आप यह कहना चाहते हैं कि एक प्रवासी ने उत्तर प्रदेश से चुनाव जीता और भारत का प्रधानमंत्री बन गया ? हमारी आपसे मांग है कि आप अपने शब्दों के लिए तत्काल माफी मांगे. देश को तोड़ने के लिए गुजरात से आरएसएस के गुंडों को नहीं जाने देंगे !

दरअसल , राहुल गांधी ने एक ट्वीट के जरिए गुजरात में उत्तर भारतीयों पर हुए हमले को लेकर रूपाणी सरकार को घेर था. इसपर रूपाण ने भी ट्वटीट के जरिए राहुल गांधी के इस बयान पर पलवार करते हुए लिखा,  ' अगर राहुल गांधी वास्तव में गुजरात में हिंसा के खिलाफ हैं तो अपने उन पार्टी सदस्यों पर कार्रवाई करें जिन्होंने हिंसा भड़काया है. हल ट्वीट करने में नहीं कार्रवाई करने में है. पर क्या वह ऐसा करेगा.'' 

सीएम रूपाणी ने आगे लिखा उनकी सरकार आरोप प्रत्यारोप की जगह लोगों के बीच यह विश्वास कायम करने में जुटी है कि वे गुजरात में पूरी तरह से सुरक्षित हैं. बता दें कि सीएम रूपाणी ने सोमवार को लोगों से अपील की कि वे लौट आएं, उन्हें पूरी सुरक्षा दी जाएगी.  

इससे पहले राहुल गांधी ने ट्वीट में लिखा कि , '' गरीबी के बड़ी कोई दहशत नहीं है. गुजरात में हो रहे हिंसा की जड़ वहां के बंद पड़े कारखाने और बेरोजगारी है . व्यवस्था और अर्थव्यवस्था दोनों चरमरा रही हैं. प्रवासी श्रमिकों को इसका निशाना बनाना पूर्णत गलत हैं .''

DO NOT MISS