pc - twiiter
pc - twiiter

Politics

राजनीति वर्चस्व के लिए लालू दोनों लाल के बीच मतभेद की खबरों पर तेजप्रताप ने लगाया विराम..

Written By Amit Bajpayee | Mumbai | Published:

बिहार की राजनीति में इन दिनों लालू के दोनों बेटों के बीच रार की खबरें सामने आ रही हैं. राजनीति घरानों में सत्ता का संघर्ष हमेशा बना रहा है ऐसे में अब लालू के दोनों लाल तेज़ प्रताप और तेजस्वी यादव के बीच रार की खबर आ रही है. 

खबर है कि जिस तरह करुणानिधि ने अपने छोटे बटे स्टालिन को पार्टी की बागडोर दी थी और बड़े बेटे अलागिरी हो गए थे. ऐसी ही स्थिति अब लालू प्रसाद यादव के पटना स्थित आवास 10 सर्कुलर रॉड  में देखने को मिल रही है.

दरअसल लालू यादव के आवास 10 सर्कुलर रॉड पर मंगलवार को पार्टी की महत्वपूर्ण बैठक थी और उसमें हर स्तर के नेता मौजूद थे. इस बैठक में लालू यादव की पत्नी रबड़ी देवी , पुत्र तेजस्वी यादव , पुत्री मीसा भारती दिखे. मगर लालू के बड़े लाल तेज प्रताप उसी आवास में रहकर भी बैठक से नदारत दिखे. 

तेज प्रताप अपने छात्र राजद विंग के सदस्यों का एक पदयात्रा भी तेजस्वी के हाथों करवाना चाहते थे मगर बैठक के बाद प्रेस से बात कर तेज प्रताप ने कार्यक्रम से किनारा कर लिया. देर शाम तेज प्रताप ने खुद एक मंदिर से अपने कार्यकर्ताओं को रवाना किया.

वहीं दोनों भाईयों के बीच मतभेद के चर्चा को लालू यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव ने नकार दिया . तेज प्रताप ने इन सब को फिर से अफवाह बताया है . इससे पहले भी मीडिया में इस तरह की खबर आई थी तो तेजप्रताप ने इसे खारिज कर दिया था. इस बार फिर उन्होंने मतभेद को अफवाह और साजिश बताया है.


इस मुद्दे पर मीडिया से बात करते हुए लालू के लाल ने कहा कि , तेजप्रताप यादव औ  तेजस्वी यादव को लड़वाओगे तो चक्र चलेगा. कुछ लोग मेरा मजाक उड़ा रहे हैं. और मेरे कामों को बदनाम करने में लगे हैं. लेकिन वह जो कर रहे हैं वह गलत रास्त नहीं है.  

तेजप्रताप यादव ने आगे कहा कि वह  लालू यादव की राह पर चल रहे हैं. दोनों भाईयों में किसी तरह कोई रार नहीं है औ न ही सत्ता के लिए कोई संघर्ष चल रहा है. उन्होंने कहा मेरा केवल एक ही लक्ष्य है 2019 का चुनव जिसके लिए 'जेपी आंदोलन' के तर्ज पर 'एलपी मूवमेंट' करेंगे.

DO NOT MISS