Politics

चालू वित्त वर्ष में लाभ में आएगा PNB, नीरव मोदी घोटाला बीती बात: सुनील मेहता

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) को चालू वित्त वर्ष में मुनाफे में लौटने की उम्मीद है. बैंक के प्रबंध निदेशक सुनील मेहता ने कहा है कि बैंक मुनाफे में लौटेगा और वृद्धि दर्ज करेगा. उन्होंने जोर देकर कहा कि 14,000 करोड़ रुपए का नीरव मोदी घोटाला अब बीती बात है. मेहता ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि पीएनबी 2018-19 में लाभ में लौटेगा.उन्होंने कहा कि इस साल जनवरी में नीरव मोदी घोटाला सामने आने के बाद बैंक ने कई कदम उठाए हैं.

केरल के मुख्यमंत्री पिनारयी विजयन को सोमवार को बाढ़ राहत और पुनर्वास के लिए पांच करोड़ रुपए का चेक देने के बाद मेहता ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि बैंक ने इस तरह के झटके को सहने की क्षमता दिखाई है.चालू वित्त वर्ष में बैंक पुन: मुनाफे में लौटेगा. उन्होंने कहा कि बैंक धीरे-धीरे वृद्धि की राह पर लौट रहा है. पीएनबी को चालू वित्त वर्ष की जून तिमाही में 940 करोड़ रुपए का घाटा हुआ है. इससे पिछले वित्त वर्ष की इसी तिमाही में बैंक ने 343.40 करोड़ रुपए का मुनाफा कमाया था.

बैंक के निदेशक मंडल ने विस्तार के लिए सरकार से 5,431 करोड़ रुपए की पूंजी मांगी है. इसके लिए बैंक तरजीही शेयर जारी करेगा. उन्होंने कहा कि प्रस्तावित पूंजी निवेश से बैंक की वृद्धि की पहल को प्रोत्साहन मिलेगा.इससे पहले इसी साल बैंक में 2,816 करोड़ रुपये का कोष डाला गया था, जो नियामकीय अनुपालन के तहत नियमों को पूरा करने के लिए था.

इसे भी पढ़ें: PNB घोटाले में नीरव मोदी पर कसा ED का शिकंजा, ज्वैलरी - आलीशान मकान समेत 637 करोड़ की संपत्तियां जब्त

बता दें, नीरव मोदी ने पीएनबी बैंक के साथ लगभग 11 हजार करोड़ रुपए का कथित घोटाला किया है. बता दें, फिलहाल नीरव मोदी देश से फरार है. वहीं कुछ दिन पहले ही प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने सोमवार को 637 करोड़ रुपए की संपत्तियों को जब्त कर लिया है. इन संपत्तियों में न्यूयॉर्क के सेंट्रल पार्क में स्थित दो अपार्टमेंट भी शामिल है. 

एजेंसी ने कहा कि उसने लंदन और न्यूयॉर्क स्थित संपत्तियों, सिंगापुर एवं अन्य देशों में बैंक जमा, मुंबई में फ्लैट तथा सिंगापुर से भारत भेजे गये हीरा जड़ित आभूषणों को जब्त करने के लिए धन शोधन रोकथाम अधिनियम के तहत पांच विभिन्न आदेश जारी किये थे.

DO NOT MISS