Politics

राम मंदिर मुद्दे पर साक्षी महाराज ने की सुप्रीम कोर्ट की आलोचना, कही ये बड़ी बात ..

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

उन्नाव से सांसद और भारतीय जनता पार्टी के फायर ब्रांड नेता साक्षी महाराज ने एक बार फिर बड़ा और विवादित बयान दे दिया है. साक्षी महाराज ने राम मंदिर के मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट के रुख की आलोचना की है. उन्होंने कहा है कि 'मैं सुप्रीम कोर्ट की भर्त्सना करता हूं.. तमाम अनावश्यक मामलों में सुप्रीम कोर्ट ने निर्णय दे दिए लेकिन अयोध्या मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट टाल मटोल कर रहा है.'

बता दें, उन्नाव से सांसद साक्षी महाराज हमेशा ही अपने विवादित बयानों को लेकर चर्चा में रहते हैं. राम मंदिर मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट द्वारा समय लगाए जाने के मामले में साक्षी महराज ने कहा कि अब कोई रास्ता नही बचा. बहुत सारे अनावश्यक मामलों में न्यायालय ने निर्णय दे दिए. लेकिन अयोध्या मामले में न्यायालय टाल मटोल कर रहा है. साक्षी महाराज ने कहा कि अब बीजेपी सरकार से अपेक्षा है कि सोमनाथ की तर्ज पर लोकसभा में कानून बनाया जाए. 

उन्होंने कहा, 'लोकसभा चुनाव से पहले मंदिर निर्माण शुरू कर दिया जाएगा. 2019 चुनाव में जाने से पहले हर हाल में शुरू होगा राम मंदिर का निर्माण. चाहे सरकार को लोकसभा में अध्यादेश लाना पड़े या नरसिम्हा राव ने जो जमीन अधिग्रहित की वो राम जन्मभूमि न्यास को देनी पड़े.'

गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या मामले की सुनवाई को जनवरी 2019 तक के लिए टाल दिया है. पहले ऐसे कयास लगाए जा रहे थे कि अयोध्या मामले पर 2019 लोकसभा चुनाव से पहले फैसला आ सकता है.

जहां एक तरफ राम मंदिर मुद्दे पर हिंदूवादी संगठनों के द्वारा अध्यादेश लाने की बात की जा रही है वहीं दूसरी तरफ कुछ लोग सुप्रीम कोर्ट से ही इस पूरे मामले में अंतिम फैसला करने की बात कर रहे हैं. कुछ दिन पहले भारतीय जनता पार्टी के नेता और गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने मीडिया से बात करते हुए कहा था कि 'राम मंदिर बनेगा तो सबको खुशी होगी. हमारा यह मानना है एक अच्छे वातावरण में राम मंदिर का निर्माण होना चाहिए.' 

शिवसेना का बीजेपी पर हमला- 

इससे पहले शिवसेना ने भाजपा से राम मंदिर निर्माण को लेकर अध्यादेश लाने और तारीख की घोषणा करने के लिए कहा है. शिवसेना ने अपने मुखपत्र ‘सामना’ के एक संपादकीय में लिखा, 'सत्ता में बैठे लोगों को शिवसैनिकों पर गर्व होना चाहिए जिन्होंने रामजन्मभूमि में बाबर राज को खत्म कर दिया. शिवसेना ने कहा कि वह चुनाव के दौरान न तो भगवान राम के नाम पर वोटों की भीख मांगती है और न ही जुमलेबाजी करती है. शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे राम मंदिर निर्माण की मांग को लेकर 25 नवंबर को अयोध्या का दौरा करेंगे.'

DO NOT MISS