Politics

तेजस्वी यादव बोले, 'क्या राकेश अस्थाना ने नीतीश कुमार को NDA में आने के बदले 'सृजन घोटाले' से बचाया था? 

Written By Gaurav Kumar | Mumbai | Published:

राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेजस्वी यादव ने CBI में मचे घमासान को लेकर ट्वीट किया है. बता दें, तेजस्वी ने अपने ट्वीट में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हमला बोला है. उन्होंने नीतीश कुमार पर सृजन घोटाले में शामिल होने का आरोप लगाया है. तेजस्वी ने सवाल पूछते हुए कहा है कि क्या राकेश अस्थाना ने नीतीश कुमार को NDA में आने के बदले सृजन घोटाले से बचाया था? 

तेजस्वी ने ट्वीट करते हुए लिखा, 'क्या राकेश अस्थाना ने नीतीश कुमार के NDA में आने के बदले 2500 करोड़ के सृजन घोटाले में नीतीश जी को बचाया था? CBI ने अभी तक सृजन स्कैम के मुख्य आरोपियों को भी गिरफ्तार नहीं किया है. CM ने राज्य कोष के 2500 करोड़ रुपए सृजन के खाते में ट्रांसफर कराकर गबन कर लिया. नैतिक कुमार जवाब दे?'

बता दें, CBI की लड़ाई फिलहाल सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच चुकी है. सीबीआई में नंबर एक आलोक वर्मा और नंबर दो राकेश अस्थाना ने एक दूसरे पर कई आरोप लगाए हैं. इसी को देखते हुए फिलहाल इन दोनों ही अधिकारियों को छुट्टी पर भेज दिया गया है. वहीं छुट्टी पर भेजे जाने के विरोध में आलोक वर्मा सुप्रीम कोर्ट पहुंचे थे जहां से उन्हें राहत नहीं मिली.

कोर्ट ने साफतौर पर आदेश देते हुए कहा है कि CVC, पूर्व जज के नेतृत्व में 14 दिन के भीतर वर्मा पर लगे आरोपों की जांच करके कोर्ट को रिपोर्ट सौंपे.

वहीं तेजस्वी ने एक अन्य ट्वीट करते हुए लिखा, 'देश में संविधान खत्म कर भ्रष्ट मोदी सरकार भ्रष्ट अधिकारियों के साथ मिलकर RSS के विघटनकारी एजेंडे को लागू करने की साजिश कर रही है. हम बीजेपी की विभाजनकारी नीतियों को कामयाब नहीं होने देंगे'. तेजस्वी यादव ने कहा है कि इस बार दलित, किसान, मजदूर और गरीब विरोधी मोदी सरकार को उखाड़ फेंकना है.

गौरतलब है कि बिहार में लोकसभा चुनाव को देखते हुए नीतीश कुमार की पार्टी और बीजेपी के बीच समझौता हो गया है. JDU और BJP इस बार बराबर-बराबर की सीटों पर चुनाव लड़ेगी. बता दें, RLSP के नेता उपेंद्र कुशवाहा बिहार सीट बंटवारे से नाराज बताए जा रहे हैं. कुछ दिन पहले ही कुशवाहा ने तेजस्वी से मुलाकात की थी. ऐसा माना जा रहा है कि 2019 लोकसभा चुनाव से पहले कुशवाहा RJD के साथ गठबंधन कर सकते हैं. 

DO NOT MISS