Politics

हार पर हाहाकार: लालू यादव के करीब रघुवंश प्रसाद ने तेज प्रताप व तेजस्वी पर फोड़ा हार का ठीकरा

Written By Neeraj Chouhan | Mumbai | Published:

कांग्रेस के बाद लालू की पार्टी RJD में भी पड़ी फूट पड़ती दिख रही है। तेजस्वी यादव के इस्तीफे की मांग तेज़ हो गई है। पहले RJD नेता महेश्वर यादव ने तेजस्वी का इस्तीफा मांगा। अब लालू यादव के करीबी रघघुवंश प्रसाद ने तेज और तेजस्वी पर हार का ठीकरा फोड़ दिया है।

विपक्षी दलों में हाहाकार मचा है, दिल्ली से लेकर कोलकाता तक, भोपाल से लेकर पटना तक घनघोर घमासान मचा है, कांग्रेस में इस्तीफों की बाढ़ आ गई है, तो वहीं 'प्राइवेट लिमिटेड फर्म' की तरह चलने वाली आरजेडी में अब बगावत के सुर बुलंद होते दिख रहे हैं, एक तरफ लोकसभा चुनाव में बुरी हार पर मंथन के लिए राबड़ी देवी ने नेताओं के साथ बैठक की। 

लेकिन बैठक शुरू होने से पहले ही आरजेडी के अन्दर फूट की कहानी साफ हो गई। 

यह भी पढ़ें - राहुल गांधी पर लालू प्रसाद यादव का हमला, 'इस्तीफे की पेशकश आत्मघाती'

लोकसभा चुनाव में खाता नहीं खोल पाने वाली आरजेडी के पुराने नेता और लालू यादव के बेहद करीबी रघुवंश प्रसाद सिंह ने हार का ठीकरा तेज प्रताप और तेजस्वी यादव पर फोड़ दिया है। इतना ही नहीं रघुवंश प्रताप ने तेज प्रताप के खिलाफ कार्रवाई की भी मांग की।

हालांकि विवाद इतना ही नही है। तेज प्रताप ने छोटे भाई तेजस्वी यादव को एक खत भी लिखा है, जिसमें उन्होंने अपनी बात ना मानने पर तेजस्वी को नसीहत दी है। 

यह भी पढ़ें - गहलोत पर राहुल की ‘नाराजगी’ के बाद राजस्थान सरकार में मतभेद सामने आए

इससे पहले आरजेडी नेता महेश्वर यादव हार के बाद तेजस्वी यादव का इस्तीफा मांग चुके हैं। 

23 मई को आई मोदी नाम की सुनामी में बही विपक्षी पार्टियों में आत्ममंथन, इस्तीफे और बगावत का दौर चल रहा है, परिवार केंद्रित पार्टियों का यहीं सच है, परिवार पार्टी चलाता है, जहां परिवार बड़ा कुछ नहीं होता, लेकिन 2019 के नतीजों ने बता दिया है कि अब राजनीति में वंशवाद को लोग नकार रहे हैं।

DO NOT MISS