Politics

अपने राजनीतिक गुरु लालकृष्ण आडवाणी से उनके घर मिलने पहुंचे पीएम मोदी, जन्मदिन की दी बधाई

Written By Ayush Sinha | Mumbai | Published:

भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी आज यानी 8 नवंबर को 91 साल के हो गए हैं. इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उनसे मिलने उनके आवास दिल्ली के पृथ्वीराज रोड पहुंचे. पीएम मोदी ने आडवाणी को जन्मदिन की शुभकामनाएं दी. बता दें, राजनीति में आडवाणी, नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शक रहे हैं. ऐसे में पीएम नरेंद्र मोदी ने उन्हें जन्मदिन की बधाई दी. 

कुछ इस अंदाज में लालकृष्ण आडवाणी से मिले पीएम मोदी-

पीएम मोदी जब लालकृष्ण आडवाणी को जन्मदिन की शुभकामनाएं देने उनके घर पर पहुंचे तो उन्होंने झुककर उन्हें प्रणाम किया. पीएम मोदी ने आडवाणी को फूल देकर जन्मदिन की बधाई दी.

मुलाकात से पहले प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट करके भी उन्हें जन्मदिन की बधाई दी थी. मोदी ने ट्विटर पर लिखा, 'भारत के विकास में आडवाणी जी का योगदान बहुत बड़ा है. मंत्री के तौर पर उनके कार्यकाल की प्रशंसा भविष्योन्मुखी निर्णय लेने और जनपक्षधर नीतियों के लिए की जाती है. उनकी विद्वता की प्रशंसा सभी राजनीतिज्ञ करते हैं.' एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा, 'पार्टी के वरिष्ठ नेता का भारतीय राजनीति पर बहुत अधिक प्रभाव पड़ा है. उन्होंने नि:स्वार्थ भावना और सतत परिश्रम से भाजपा को खड़ा किया और आश्चर्यजनक रूप से कार्यकर्ताओं का मनोबल बढ़ाया'.

इस मौके पर भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने भी आडवाणी को जन्मदिन की बधाई दी. शाह ने अपने ट्वीट में लिखा, आडवाणी ने भाजपा के संगठन को मजबूत किया, इसके कार्यकर्ताओं को प्रेरित किया और साथ ही उन्हें अनुशासन भी सिखाया.

केंद्रीय गृह मंत्री और भाजपा के पूर्व अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने आडवाणी को भारतीय राजनीति का पितामह करार दिया. राजनाथ ने कहा, ‘‘उन्होंने भाजपा की शुरुआत के वक्त से ही इसे सींचा है. आडवाणी जी पार्टी के करोड़ों कार्यकर्ताओं के लिए एक प्रेरणास्रोत हैं. ईश्वर उन्हें अच्छी सेहत और लंबी आयु प्रदान करे.’


बता दें, आडवाणी का जन्म कराची (पाकिस्तान) में 1927 को हुआ था. साल 1941 में महज 14 साल की उम्र में प्रचारक के रूप में RSS ज्वाइंन किया था. 

आडवाणी का राजनीतिक सफर

  • 1951 से 1957 तक आडवाणी भारतीय जनसंघ के सचिव रहे
  • 1973 से 1977 तक आडवाणी ने भारतीय जनसंघ के अध्यक्ष का पद संभाला
  • 1977 से 1979 तक पहली बार केंद्रीय सरकार में कैबिनेट मंत्री बने
  • इस दौरान आडवाणी केंद्रीय सूचना प्रसारण मंत्री रहे
  • 1980 में BJP की स्थापना के बाद से 1986 तक लालकृष्ण आडवाणी पार्टी के महासचिव रहे
  • 1986 से 1991 तक आडवाणी ने पार्टी अध्यक्ष रहे
  • 1998 से 2004 तक आडवाणी भारत सरकार में गृहमंत्री रहे
  • आडवाणी 4 बार राज्यसभा और 7 बार लोकसभा के सदस्य रहे
  • लालकृष्ण आडवाणी 3 बार बीजेपी के अध्यक्ष पद पर रह चुके हैं
DO NOT MISS