Politics

फिर सामने आया महबूबा का आतंकी प्रेम, पुलवामा हमले के आतंकी को बताया ''निराश युवा''

Written By Ayush Sinha | Mumbai | Published:

जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती का आतंकियों से प्रेम कम नहीं हो रहा है। देशविरोधी बातें करने वाली महबूबा ने फिर ऐसी ही देश के खिलाफ बात की है।

एक विदेशी न्यूज एजेंसी को दिए इंटरव्यू में महबूबा ने पुलवामा में आतंकी हमला करना वाले को निराश युवा बताया है।

महबूबा ने कहा, ''हमने देखा है कि कश्मीर का एक निराश युवा ने आत्मघाती हमला किया, जिसमें सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए।''

भारत में अभिव्यक्ति की आजादी है, और कुछ लोग इस अधिकार का ऐसा फायदा उठा रहे हैं, जिससे पूरे देश को नुकसान हो रहा है। लाज़मी है ऐसी बयानबाजी से सेना के मनोबल पर चोट पहुंच रही है, पाकिस्तान को मदद मिल रही है। महबूबा मुफ्ती को पुलवामा हमले को अंजाम देने वाले से हमदर्दी है।

आपको महबूबा के कुछ पुराने विवादित बयान के बारे में भी बताते हैं। महबूबा ने कहा था कि JNU मामले में कार्रवाई एक चुनावी स्टंट है। आतंकियों पर महबूबा ने कहा था कश्मीर के स्थानीय आतंकी भूमिपुत्र हैं, उन्हें बचाना चाहिए।

वहीं पाकिस्तान के बारे में महबूबा का कहना था कि कश्मीर समस्या समाधान के लिए पाक से बेहतर संबंध जरुरी है। महबूबा मुफ्ती ने ये भी कहा था कि  जम्मू में मुसलमान असुरक्षित हैं और महबूबा ने ये कहा था कि RSS देश का सेक्युलर संगठन है तो मैं इंग्लैंड की महारानी हूं।

महबूबा मुफ्ती हमेशा से आतंक के प्रति प्रेम जाहिर करती रही हैं, इस बार भी महबूबा ने कुछ ऐसा ही किया है। एक विदेशी न्यूज एजेंसी को दिए इंटरव्यू में महबूबा ने सेना के 40 जवानों पर आत्मघाती हमला करने वाले काफिर आतंकी को निराश युवा बता दिया।

पुलवामा हमले में कई घरों के चिराग बुझ गए, लेकिन महबूबा मुफ्ती पाकिस्तान के खिलाफ आज तक नहीं बोल पाई, वो भूल गई हैं 1989 को, जब आतंकवादियों ने उनकी बहन रूबैया को अगवा कर लिया था। महबूबा को क्रूर आतंकियों में भटके हुए और निराश नौजवान दिखते हैं।

ऐसे में R. भारत डंके की चोट पर कुछ सवाल उठाना पूछना चाहता है... 

R.भारत के सवाल

  • महबूबा को आतंकी से हमदर्दी क्यों? 
  • क्या सत्ता के लिए आतंकियों से हमदर्दी है? 
  • महबूबा को पाकिस्तान से प्यार क्यों है? 
  • हत्यारे आतंकी भूमि पुत्र कैसे हो सकते हैं? 
  • देश के दुश्मन महबूबा को क्यों पसंद हैं? 
  • क्या दुनिया को बरगला रही है महबूबा?
DO NOT MISS