Politics

1984 सिख विरोधी दंगा : सज्जन कुमार की सजा पर अनिल विज ने सुनाई खरी-खोटी, ''दोषी तो कांग्रेस पार्टी है''

Written By Ayush Sinha | Mumbai | Published:

साल 1984 का सिख विरोधी दंगा भारत के इतिहास में ऐसी दर्दनाक दास्तां है जिसके बारे मे सोच कर ही हर किसी की रूह कांप उठेगी. कई मासूम बेगुनाहों को बड़ी ही बेरहमी से मौत के घाट उतर दिया गया था. इस दंगे में कई लोगों के नाम सामने आए कई मामले पर सुनवाई हो चुकी है तो कई मसले पर जारी है. 

कांग्रेस नेता सज्जन कुमार को निचली अदालत से मिली बेल के बाद सीबीआई ने दिल्ली हाईकोर्ट में अपील दायर की थी. सोमवार को सीबीआई की उस अपील पर कोर्ट ने सुनवाई की. जिसमें कांग्रेस नेता सज्जन कुमार को दोषी करार देते हुए कोर्ट ने उम्रकैद की सजा सुनाई है. इस मसले पर राजनीतिक महकमे में सियासी जंग तेज हो गई है. 

इस बीच हरियाणा सरकार में मंत्री अनिल विज ने भी कांग्रेस पार्टी को जमकर खरी खोटी सुनाई है. अनिल विज ने ट्विटर पर कांग्रेस के खिलाफ भड़ास निकाली है. 

अपने ट्वीट में मंत्री विज ने इस दंगे के लिए पूरी कांग्रेस पार्टी को लपेटे में लिया है. उन्होंने कहा, ''1984 के सिख दंगों के दोषियो में से एक और कांग्रेस के सज्जनकुमार को सजा मिल गई. सकून है लेकिन ये पूरा इंसाफ नहीं है. 3400 सिखों के नरसंहार के लिए इक्का दुक्का लोग ही दोषी नही हो सकते. दोषी तो कांग्रेस पार्टी है. कांग्रेस की साम्प्रदायिक विचारधारा है''

मंत्री ने एक के बाद एक लगातार तीन ट्वीट किया और पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को भी सवालों के कटघरे में खड़ा कर दिया.

उन्होंने राजीव गांधी के उस बयान का हवाला दिया जिसमें उन्होंने कहा था, ''जब कोई बड़ा पेड़ गिरता है तो धरती हिलती है''

गौरतलब है कि 2013 में निचली अदालत ने इस मामलें में कांग्रेस नेता सज्जन कुमार को सबूतों के अभाव में बरी कर दिया था. वहीं, सीबीआई ने कांग्रेस नेता सज्जन कुमार को बरी करने के खिलाफ अपील की. जिसपर सोमवार को सुनवाई पूरी होने के बाद कांग्रेस पार्टी के खिलाफ बयानबाजी तेज हो गई है.

DO NOT MISS