Politics

एग्जिट पोल से गदगद विपक्ष का मोदी विरोधी अभियान का आगाज - दिल्ली की महा बैठक में शामिल होंगे राहुल,ममता और अखिलेश समेत दर्जन भर नेता

Written By Amit Bajpayee | Mumbai | Published:

पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव के नतीजे आने में अब सिर्फ चंद घंटे बाकी हैं, लेकिन तमाम राष्ट्रीय पार्टियां सरकार बनाने के लिए सियासी जोड़- तोड़ , आंकड़ों की माथापच्ची और रणनीति बनाने का दौरा जारी है. इसी क्रम में आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन , चंद्रबाबू नायडू ने विपक्षी दलों की बैठक बुलाई है. जिसमें लोगसभा के आगामी चुनाव में राजग के खिलाफ विपक्षी दलों का महागठबंधन बनाने पर चर्चा किए जाने की संभावना है. इस बैठक में पांच राज्यों को चुनाव के नतीजों के अलावा संसद के शीतकालीन सत्र में अपनाई जाने वाली संयुक्त रणनीति को लेकर भी निर्णय लेंगे .

विपक्षी दलों के बैठक में दिल्ली के मुख्यमंत्री सह आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल शामिल होंगे. वहीं मायावती की अगुआई वाली बहुजन समाज पार्टी के शामिल होने को लेकर असमंजस बना हुआ है. अभी तक यह तय नहीं हो पाया है कि बसपा के प्रतिनिधि इस बैठक में मौजूद रहेंगे अथवा नहीं. 


दूसरी ओर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी , पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी समेत कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं के साथ शरह पवार, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी , आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू , कर्नाटक के मुख्यमंत्री कुमारस्वामी , दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल , जम्मू - कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारुख अब्दुल्ला , यूपी के पुर्व सीएम अखिलेश यादव, आरजेडी के नेता तेजस्वी यादव , झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री सह झारखंड मुक्ति मोर्चा के अध्यक्ष हेमंत सोरेन सहित कई राजनीतिक दलों के नेताओं के इस बैठक में शिरकत करने के आसार हैं.

इस बैठक से एक दिन पहले रविवार को द्रमुक अध्यक्ष एमके स्टालिन ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी से उनके आवास पर जाकर मुलाकात की. सोनिया गांधी को जन्मदिन की बधाई दने पहुंचे स्टालिन और अन्य द्रमुक नेताओं ने राहुल और सोनिया गांधी के कई मुद्दों पर चर्चा की.

 

DO NOT MISS