Politics

मायावती ने BJP सांसद द्वारा तहसीलदार की कथित पिटाई को बताया शर्मनाक

Written By Press Trust of India (भाषा) | Mumbai | Published:

कन्नौज के एक तहसीलदार को भारतीय जनता पार्टी के स्थानीय सांसद द्वारा कथित रूप से पीटे जाने की घटना को बहुजन समाज पार्टी अध्यक्ष मायावती ने शर्मनाक बताते हुए उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई की मांग की है।

बसपा अध्यक्ष ने ट्वीट करते हुए लिखा, 'उत्तर प्रदेश के कन्नौज जिले में अपनी ईमानदारी से ड्यूटी कर रहे एक दलित तहसीलदार के साथ अभी हाल ही में, वहां के भाजपा सांसद ने, जो मार-पीट व दुर्व्यवहार आदि किया है, यह अति शर्मनाक है।' 

उन्होंने दूसरे ट्वीट में कहा 'लेकिन दुःख की बात यह है कि यह सांसद अब भी जेल में जाने की बजाय बाहर ही घूम रहा है, जिससे पूरे प्रदेश में दलित कर्मचारियों में जबर्दस्त रोष व्याप्त है। ऐसे में मुख्यमंत्री को चाहिये कि वे इस मामले में जरूर सख्त कदम उठायें ताकि यह सांसद आगे कभी भी ऐसी हरकत ना कर सके।' 

मायावती ने अपने तीसरे ट्वीट में कहा, 'साथ ही, पूरे प्रदेश में, खासकर दलित कर्मचारियों के साथ, आगे ऐसा कोई भी बर्ताव ना हो तो इसके लिए भी, इनको अपने इस सांसद के विरूद्ध तुरन्त कठोर कार्रवाई करनी चाहिये। बी.एस.पी. की यह मांग है।' गौरतलब है कि कन्नौज में सात अप्रैल मंगलवार को राज्य सरकार के एक अधिकारी ने भाजपा के कन्नौज से सांसद सुब्रत पाठक पर उनके खिलाफ अपमानजनक भाषा इस्तेमाल करने का आरोप लगाया था।

तहसीलदार सदर अरविंद कुमार ने आरोप लगाया था कि सुब्रत पाठक ने फोन पर उनके खिलाफ अपमानजनक भाषा का इस्तेमाल किया और बाद में उनके घर आए। उनका मोबाइल फोन छीना और उनसे मारपीट की । हालांकि सांसद पाठक ने इन आरोपों से इनकार किया है।