Politics

महागठबंधन को लेकर मुलाकातों का दौर तेज: कुमारस्वामी बोले, '..1986 का इतिहास 2019 में दोहराया जाएगा'

Written By Gaurav Kumar | Mumbai | Published:

आने वाले लोकसभा चुनाव के मद्देनजर एक बार फिर से तमाम विपक्षी पार्टियां एकजुट होने की कोशिशों में जुट गई हैं. TDP के अध्यक्ष चंद्रबाबू नायडू तमाम विपक्षी दलों के नेताओं से जाकर मिल रहे हैं और एंटी मोदी फ्रंट बनाने की वकालत कर रहे हैं. वहीं गुरुवार को चंद्रबाबू नायडू ने JDS नेता एचडी देवगौड़ा और कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी से मुलाकात की. 

मुलाकात को लेकर क्या बोले पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा-

इस मौके पर इन तीनों ही नेताओं ने मीडिया से बातचीत की. वहीं जेडीएस नेता और पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा ने मीडिया से बात करते हुए कहा है कि ''आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू कई पार्टी के नेताओं से मुलाकात कर रहे हैं.. वो 2019 में NDA को हटाने के लिए सेक्युलर पार्टियों को एकजुट कर रहे हैं. उन्होंने आज मेरे से और कर्नाटक के मुख्यमंत्री कुमारस्वामी से मुलाकात की है और आगे की रणनीति पर चर्चा की है.'' 

इसके साथ ही देवगौड़ा ने कहा कि 'नायडू सभी पार्टियों को एकजुट करने की दिशा में अच्छा काम कर रहे हैं. नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली NDA ने कई समस्याएं पैदा की हैं.. अब ये हमारी जिम्मेदारी है कि सभी सेक्युलर पार्टियां यहां तक की कांग्रेस भी एकसाथ आकर NDA की सरकार को बदल दे.'' 

कुमारस्वामी ने कहा, 1986 का इतिहास 2019 में दोहराएगा -

वहीं कर्नाटक के मुख्यमंत्री कुमारस्वामी ने कहा कि ''हमने आपस में बातचीत की है कि सभी सेक्युलर पार्टियां एक दूसरे के साथ आए. जबसे चंद्रबाबू नायडू ने दिल्ली की राजनीति में कदम रखा है हमें उनपर पूरा विश्वास है. आज देवगौड़ा जी और नायडू जी के बीच में मुलाकात हुई है. उन्होंने कई मुद्दों पर बातचीत की है. ये दोनों लोग पुराने दोस्त हैं.. मेरे मुताबिक 1986 का इतिहास 2019 में दोहराया जाएगा.

मोदी सरकार पर बरसे चंद्रबाबू नायडू -

वहीं इस मीटिंग को लेकर चंद्रबाबू नायडू ने कहा, 'अब हम लोगों ने तय कर लिया है कि देश को बचाने के लिए हम एक साथ आएंगे. सीबीआई एवं अन्य एजेंसियां खतरे में हैं. मैं यहां पर देवगौड़ा जी का आर्शीवाद लेने के लिए आया था. मुझे देवगौड़ा जी के द्वारा काफी सम्मान दिया गया है. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने हम सभी को जनवरी में होने वाली रैली के लिए आमंत्रित किया है.'

नायडू ने कहा, 'आप लोगों को मसाला चाहिए मैं देश को बचाने की कोशिश में जुटा हुआ हूं.. हम लोग मीटिंग में ये तय करेंगे की इस पूरे मामले पर आगे कैसे बढ़ना है और कौन होगा प्रधानमंत्री उम्मीदवार. मैंने इस पूरे मामले पर अखिलेश यादव और मायावती से बात की है. शनिवार को मैं तमिलनाडु के नेता एम के स्टालिन से मुलाकात करूंगा.'

नायडू ने मोदी सरकार को घेरते हुए कहा है कि 'नोटबंदी के कारण अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुंचा है. इसके साथ ही उन्होंने तेल की बढ़ी कीमतों को लेकर नोटबंदी को जिम्मेदार ठहराया.'

गौरलतब है कि हाल के दिनों में TDP नेता चंद्रबाबू नायडू ने कई बड़े नेताओं से मुलाकात की थी. जिसमें कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी शामिल थे. नायडू लगातार एंटी मोदी दलों को एकजुट करने की कोशिशों में जुटे हुए हैं. उन्होंने दिल्ली में NCP चीफ शरद पवार और नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारुख अब्दुल्ला और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मिलने के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस भी की थी. 

DO NOT MISS