Politics

कन्हैया कुमार का योगी सरकार पर तीखा वार, कहा- 'एनकाउंटर को पैसा कमाने का साधन बना दिया'

Written By Gaurav Kumar | Mumbai | Published:

उत्तर प्रदेश के लखनऊ में शुक्रवार रात पुलिस कांस्टेबल के द्वारा मल्टीनेशनल कंपनी ऐपल के एरिया मैनेजर विवेक तिवारी की गोली मारकर हत्या कर दी गई. जिसके बाद से ही उत्तर प्रदेश की पुलिस पर सवाल उठ रहे हैं. इस पूरे मामले के सामने आने के बाद उत्तर प्रदेश पुलिस की काफी फजीहत भी हो रही है. वहीं अब इस मामले में छात्र नेता कन्हैया कुमार ने ट्वीट करते हुए योगी सरकार पर चौतरफा हमला बोला है. कन्हैया कुमार ने योगी पुलिस पर कई गंभीर आरोप लगाते हुए उनसे कई सवाल पूछे हैं.

कन्हैया कुमार ने अपने ट्वीट में लिखा, 'यूपी में कब्रिस्तान और श्मशान के सांप्रदायिक मुहावरे की राजनीति का खौफनाक मंजर सामने आ रहा है जिसमें बेकसूरों के एनकाउंटर को पैसा कमाने का साधन बना दिया गया है. सत्ता जब अपराधियों के हाथ में चली जाती है तो नफरत और हिंसा की आग से कोई घर अछूता नहीं रहता.'

इस पूरे घटना की एक मात्र चश्मदीद गवाह विवेक के साथ कार में मौजूद सना थी. सना के मुताबिक शुक्रवार रात वो अपने सहयोगी विवेक तिवारी के साथ घर लौट रही थी, इसी बीच सामने से पुलिसवाले आए और उनकी कार को जबर्दस्ती रोकने लगे. सना कहती हैं, विवेक तिवारी सर ने सोचा कि पता नहीं कौन है जो इतनी रात को रोक रहा है और हम अकेले थे. इसके बाद पुलिस वालों ने सामने से अपनी बाइक हमारे गाड़ी के सामने लगा दी और हमें रोकने लगे. इसी बीच बाइक से उतरकर एक पुलिस वाले ने मेरी तरफ डंडे से वार किया और उनके (विवेक तिवारी) सर के ऊपर गोली चला देता है. 

हालांकि उत्तर प्रदेश प्रशासन ने इस पूरे मामले में आरोपी पुलिसवाले को हिरासत में ले लिया है. वहीं अब इस पूरे मामले की जांच करने के लिए SIT घटानास्थल पर पहुंच चुकी है. सरकार ने अपना विरोध बढ़ता देख पीड़ित परिवार को 25 लाख रुपए देने और एक सरकारी नौकरी का लिखित आश्वासन दिया है. 

कन्हैया कुमार के अलावा उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी उत्तर प्रदेश की सरकार पर निशाना साधा है. इससे पहले भी कन्हैया कई बार केंद्र सरकार पर सवाल उठा चुके हैं. 

DO NOT MISS