Politics

राफेल सौदे को लेकर एयरफोर्स चीफ के बयान पर आगबबूला हुई कांग्रेस, बोली- "झूठ" बोल रहे हैं BS धनोआ...

Written By Neeraj Chouhan | Mumbai | Published:

वायु सेना प्रमुख बीएस धनोआ के  राफेल को पासा पलटने  वाले बयान के बाद एक बार फिर राजनीति तेज हो गई है. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता  ने धनोआ पर निशाना साधाते हुए कहा कि वो "सच्चाई को दबा" रहे हैं. मोइली ने राफेल पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर टिप्पणी करते हुए कहा कि कोर्ट ने जो भी फैसला लिया है वो सरकार द्वारा पेश की गई रिपोर्ट के आधार पर लिया गया है. जबकि सरकार ने कोर्ट से झूठ बोला है. उन्होंने आगे कहा कि राफेल मुद्दा पर सच्चाई को सबके सामने लाने के लिए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की तारिफ की जानी चाहिए.

गुरुवार को वीरप्पा मोइली ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि   सरकारी कागजातों में रक्षा मंत्रालय और वायु सेना प्रमुख चाहते थे कि एचएएल इस डील का हिस्सा बने. आईएएफ चीफ ने डसाल्ट के प्रमुख के साथ एचएएल का दौरा किया था और इसे ऑफसेट कंपनी के लिए सक्षम पाया था. मुझे लगता है कि इस मुद्दे पर वायु सेना प्रमुख की राय ठीक नहीं है. वह सच्चाई को दबा रहे हैं और झूठ बोल रहे हैं.'

इससे पहले वायुसेना प्रमुख बी एस धनोआ ने बुधवार को राफेल को पासा पलटने वाला बताया और कहा कि उच्चतम न्यायालय ने फ्रांस के साथ हुए इस सैन्य विमान सौदे के खिलाफ दायर की गयी याचिकाओं पर ‘बहुत अच्छा फैसला’ दिया है.

उन्होंने रक्षा खरीद के राजनीतिकरण के विरुद्ध सावधान किया और कहा कि पहले इसी की वजह से सेना को बोफोर्स तोप हासिल करने में देरी हुई थी. 

उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘‘मैं फैसले पर कुछ नहीं कहने जा रहा हूं लेकिन उच्चतम न्यायालय ने बहुत अच्छा फैसला दिया है. उसने यह भी कहा कि इस विमान की सख्त जरुरत है.’’ 

धनोआ ने कहा कि जहां तक प्रौद्योगिकी की बात है तो राफेल विमान के खिलाफ कोई तर्क नहीं है. 

DO NOT MISS