Politics

मीसा भारती बोली, "जब राम कृपाल यादव ने BJP ज्वाइन की, तो ऐसा मन हुआ कि उनके हाथ काट दूं"

Written By Neeraj Chouhan | Mumbai | Published:

राष्ट्रीय जनता दल (RJD) अध्यक्ष लालू प्रसाद (Lalu Yadav) की बेटी और राज्यसभा सांसद मीसा भारती (Misa Bharti) ने केंद्रीय मंत्री राम कृपाल यादव को लेकर विवादित बयान दिया है. कभी लालू के करीबियों में गिने जाने वाले राम कृपाल यादव के खिलाफ बोलते हुए मीसा ने कहा कि वो जब बीजेपी में शामिल हो रहे तो उनका मन कर रहा था कि वो  राम कृपाल यादव के हाथ काट दें.

16 जनवरी को पटना के बीकराम इलाके में एक रैली को संबोधित करते हुए मीसा ने कहा, "  वह (राम कृपाल यादव) चारा काटा करते थे. हमारे मन में उनके लिए काफी सम्मान था. हालांकि, यह सम्मान तब खत्म हो गया, जब उन्होंने सुशील मोदी से हाथ मिला लिया. उस वक्त मुझे ऐसा महसूस हुआ था कि उसी चारा काटने वाली मशीन में उनके हाथ डालकर काट दूं."

यह भी पढ़ें - तेजस्वी यादव ने CM नीतीश कुमार पर बोला हमाल, बताया- "नैतिक भ्रष्टाचार का भीष्म पितामह"

बता दें, राम कृपाल यादव ने साल 2014 में लोकसभा चुनाव से पहले राष्ट्रीय जनता दल का साथ छोड़ कर भारतीय जनता पार्टी का दामन थाम लिया था. आरजेडी छोड़ने के बाद उन्होंने पटलीपुत्र लोकसभा सीट पर मीसा भारती के खिलाफ चुनाव जीता था. 

आयोजन को आगे संबोधित करते हुए मीसा भारती ने आगामी चुनाव में अपनी जीत को लेकर आश्वासन जताया है, उन्होंने 2014 में हार की पीछा का कारण चुनावी तैयारियों के लिए पर्याप्त समय ना देने को बताया था.  

इससे पहले जनवरी में, राजद नेता और भाई तेज प्रताप यादव ने घोषणा की कि उनकी बहन मीसा भारती लोकसभा 2019 के चुनाव में पाटलिपुत्र की लोकसभा सीट से चुनाव लड़ेंगी. हालांकि, उन्होंने कहा कि इस संबंध में अंतिम निर्णय पार्टी प्रमुख लालू प्रसाद यादव लेंगे.

राजद पार्टी छोड़ने के बाद, 61 वर्षीय राम कृपाल यादव ने पीएम नरेंद्र मोदी की खासा तारिफ की थी. साथ ही उन्होंने राजद का साथ छोड़ने के पीछे तर्क देते हुए कहा था कि मैं सालों से राजद का समर्पित कार्यकर्ता रहा हूं , लेकिन मुझे यह कदम उठाने के लिए मजबूर होना पड़ा, यह दर्दनाक था लेकिन मेरे पास कोई विकल्प नहीं था ."

DO NOT MISS