Politics

मध्यप्रदेश: राहुल गांधी बोले, 'शिप्रा नदी के पानी को अगर कोई मंत्री पी ले तो वो बेहोश हो जाएगा'

Written By Gaurav Kumar | Mumbai | Published:

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक बार फिर से राफेल का मुद्दा उठाते हुए केंद्र सरकार पर हमला बोला है. राहुल गांधी ने कहा है कि ''CBI के डायरेक्टर राफेल मुद्दे पर जांच करने वाले थे, दूध का दूध पानी का पानी हो जाता. डर के मारे चौकीदार ने CBI के डायरेक्टर को दो बजे रात को निकाल दिया. उन्हें डर था कि राफेल मामले में कहीं जांच शुरू न हो जाए.'' 

इसके साथ ही कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि 'आपने आर्मड फोर्स के लिए क्या किया? पंचायती राज खत्म कर दिया.. जम्मू कश्मीर को जला दिया.. आतंकवादियों के लिए दरवाजा खोल दिया. उन्होंने कहा मैं झूठे वादे नहीं करता, चुनाव के 10 दिनों के बाद कांग्रेस की सरकार मध्य प्रदेश के किसानों के कर्ज माफ कर देगी.. और अगर मुख्यमंत्री बहाना बनाएंगे तो कांग्रेस के दूसरे मुख्यमंत्री कर्ज को माफ करेंगे.'

इसके साथ ही कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मध्य प्रदेश की सरकार पर जोरदार हमला बोला है. राहुल गांधी ने कहा, राज्य सरकार के द्वारा शिप्रा नदी को साफ करने के लिए 400 करोड़ रुपए खर्च किए गए थे लेकिन नदी के पानी को देखों अगर कोई मंत्री इस पानी को पी ले तो वो बेहोश हो जाएगा.

उन्होंने कहा किसी ने मुझसे कहा था कि कुंभ मेले में भ्रष्टाचार हुआ है जिसकी सीबीआई जांच होनी चाहिए. CBI इस भ्रष्टाचार की जांच कैसे कर सकती है जब सीबीआई के डायरेक्टर को रात दो बजे हटा दिया गया हो. 

बता दें, इससे पहले राहुल गांधी के धार्मिक अवतार पर निशाना साधते हुए भाजपा ने आरोप लगाया कि राहुल हिंदुओं की आंखों में धूल झोंकने के लिए "फैंसी ड्रेस हिंदुत्व" का प्रदर्शन कर रहे हैं.

भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने मीडिया से बात करते हुए कहा था कि, 'राहुल के खास नेता थरूर ने अपने आपत्तिजनक बयान से करोड़ों हिंदुओं की आस्था के केंद्र भगवान महादेव के पवित्र शिवलिंग के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी अपमानित किया. ऐसे में कांग्रेस अध्यक्ष महाकाल की पूजा किस मुंह से कर सकते हैं.'

इसे भी पढ़ें: राहुल कर रहे 'फैंसी ड्रेस हिंदुत्व' का प्रदर्शन, थरूर को फौरन बर्खास्त करें: BJP

DO NOT MISS