Politics

कांग्रेस ने शाश्वत गौतम को बनाया डाटा एनालिटिक्स डिपार्टमेंट का नेशनल कॉर्डिनेटर ..

Written By Gaurav Kumar | Mumbai | Published:

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को शाश्वत गौतम को AICC (डाटा एनालिटिक्स डिपार्टमेंट) में नेशनल कॉर्डिनेटर के पद पर नियुक्त किया है. शाश्वत गौतम बिहार प्रदेश कांग्रेस समिति के सलाहकार समिति में भी स्थाई निमंत्रित सदस्य होंगे. गौतम देश के तमाम राज्यों में कांग्रेस पार्टी के बूथ स्तरीय संगठन को मजबूत करने की दिशा में काम करेंगे. उनके नाम की घोषणा कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता अशोक गहलोत ने की है. कांग्रेस पार्टी ने एक प्रेस रिलीज करके इस बात की जानकारी दी है. 

वहीं अपनी नियुक्ति पर शाश्वत ने रिपब्लिक टीवी से बात करते हुए कहा, ''मेरा मकसद कांग्रेस पार्टी को कम से कम 250 संसदीय सीटों पर मजबूत करने की होगी. पूरा फोकस पार्टी को किस तरह से देश में बूथ लेवल पर मजबूत किया जाए उसपर रहेगा. इस काम को करने के लिए हम पूरे भारत में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, मशीन लर्निंग, और डेटा एनालिटिक्स टेक्नोलॉजीज का उपयोग करेंगे.'

डाटा एनालिटिक्स विभाग के चेयरमैन प्रवीण चक्रवर्ती हैं. इस डिपार्टमेंट की स्थापना राहुल गांधी ने ही फरवरी में कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष बनने के बाद की थी. डाटा एनालिटिक्स डिपार्टमेंट के चेयरमैन प्रवीण चक्रवर्ती ने शाश्वत गौतम को उनकी नियुक्ती पर बधाई दी. बता दें, कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष युवाओं को पार्टी के बड़े पदों पर काम करने के लिए शामिल करना चाहते हैं. उसी को देखते हुए ये नियुक्ति की गई है.

2019 के चुनाव में कांग्रेस पार्टी डाटा एनालिटिक्स डिपार्टमेंट पर काफी ज्यादा निर्भर करेगी. किस उम्मीदवार का चयन करना है, कैसा कैंपेन चलाना है, किस संसदीय क्षेत्र में क्या समीकरण है. इन सब मामलों में सही फैसला लेने के लिए ये डिपार्टमेंट अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा.

कांग्रेस ने शक्ति नाम के एक प्रोजेक्ट की भी शुरुआत की है. जिसका मकसद बूथ लेवल तक अपने कार्यकर्ताओं, समर्थकों तक पहुंचना है. कांग्रेस पार्टी ने ये दावा भी किया है कि प्रोजेक्ट शक्ति अभी तक 9 राज्यों के लगभग एक करोड़ से भी ज्यादा कार्यकर्ताओं तक पहुंच चुका है..और उन्हें अपने साथ जोड़ चुका है.

कौन हैं शाश्वत गौतम -

बता दें, शाश्वत गौतम बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ भी काम कर चुके हैं. नीतीश कुमार के साथ काम करने से पहले गौतम अमेरिका के वाशिंगटन डीसी में थे और मैरीलैंड सरकार में जल आयोग में सिविल सेवक के रूप में काम करते थे. गौतम ने डाटा एनालिटिक्स में MBA और फाइनेंस में MS कर रखा है.

DO NOT MISS