Politics

आनंद शर्मा का केंद्र पर निशाना, कहा- सरकार को पता था विजय माल्या देश से भाग रहा है ..

Written By Gaurav Kumar | Mumbai | Published:

कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने विजय माल्या और वित्त मंत्री अरुण जेटली के बीच हुई मुलाकात को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधा है. आनंद शर्मा ने मीडिया से बात करते हुए कहा है कि ''मैंने वित्त मंत्री और विजय माल्या दोनों का बयान सुना.. प्रश्न ये उठता है कि ये इतना बड़ा वाक्या है कि संसद के अंदर और संसद के बाहर चर्चा हुई.. विजय माल्या बैंकों का हजारों करोड़ लेकर देश से बाहर भाग गए.. ये बात सरकार को पता थी. वित्त मंत्री ने जब संसद के अंदर विजय माल्या प्रकरण पर अपनी टिप्पणी दी और सरकार की तरफ से बयान दिया.. जाहिर है उनको ये बात सदन में बतानी चाहिए थी. इस बात का उल्लेख नहीं करना सही नहीं है.. आपने संसद को क्यों नहीं बताया..? इसका उत्तर वित्त मंत्री ही दे सकते हैं ..''

इसके साथ ही आनंद शर्मा ने कहा कि ''एक बात और है कि पिछले कुछ दिनों का घटनाक्रम अजीबोगरीब है.. कुछ दिन पहले मेहुल चोकसी इंटरव्यू देते हैं.. वो भी दावा करते हैं अपनी बेकसूरी का इन सबके संबंध मोदी सरकार से थे..और कही न कही सरकार की तरफ से डील हुई और जिन लोगों को हिंदुस्तान में रखके जांच पड़ताल हो सकती थी बैंकों के पैसे वापस हो सकते थे ..उनको आसानी से छेड़ दिया गया.. ये नाम सूची में थे ये भी सबको पता थे.''

शर्मा ने कहा, ''PMO, CBI और सभी एजेंसी को नीरव मोदी और मेहुल चोकसी के बारे में पता था और ये जानकारी प्रधानमंत्री को भी थी..''

इसे भी पढ़ें : कांग्रेस नेता पीएल पुनिया बोले, मैंने विजय माल्या और अरुण जेटली के बीच हुई मीटिंग को देखा था, मीटिंग 15-20 मिनट तक चली थी..

उन्होंने कहा, 'हमारी मांग है कि दोनों प्रधानमंत्री और वित्त मंत्री अपना स्पष्टीकरण दें.. प्रधानमंत्री ने तो चुप्पी साध रखी है. वो सफाई क्यों नहीं दे रहे हैं.. नीरव मोदी और मेहुल चोकसी प्रधानमंत्री के कार्यक्रमों में जाते रहे हैं.. यहां तक की डावोस में वो पीएम के साथ थे.. इसलिए इन सबकी सच्चाई सामने आए यही हम चाहते हैं..''

कांग्रेस विजय माल्या और वित्त मंत्री के बीच मुलाकात को लेकर बीजेपी पर काफी हमलावर है. कांग्रेस पार्टी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके वित्त मंत्री अरुण जेटली के इस्तीफे की मांग की है.

DO NOT MISS