PTI
PTI

Politics

पश्चिम बंगाल में ‘कानून अवज्ञा कार्यक्रम’ के दौरान पुलिस और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच संघर्ष

Written By Press Trust of India (भाषा) | Mumbai | Published:

पश्चिम बंगाल के उत्तर 24 परगना जिले में बसीरहाट शहर में सोमवार को भारतीय जनता पार्टी का ‘‘कानून अवज्ञा कार्यक्रम’’ हिंसक हो उठा जिसमें भाजपा के कई कार्यकर्ता और पुलिसकर्मी घायल हो गये. पुलिस ने इस संबंध में कम से कम 54 लोगों को या तो गिरफ्तार कर लिया अथवा हिरासत में लिया गया .

पुलिस ने कहा कि घायलों में बसीरहाट थाने के प्रभारी प्रेमाशीष चट्टोराज शामिल हैं.

पुलिस के अनुसार शुरू में उन्होंने भाजपा कार्यकर्ताओं को शांत करने की कोशिश की लेकिन पार्टी कार्यकर्ताओं ने उन पर पथराव किया, जिसके बाद भीड़ को तितर-बितर करने के लिये उन्हें लाठीचार्ज करना पड़ा.

बसीरहाट में हुए संघर्ष में भाजपा के कई कार्यकर्ता और पुलिस अधिकारी घायल हो गये. बसीरहाट कोलकाता से करीब 60 किलोमीटर की दूरी पर है.

यह भी पढ़ें - National Approval Ratings | पश्चिम बंगाल में भाजपा को फायदा, ममता बनर्जी को मिल सकती हैं 32 सीटें

कार्यक्रम में मौजूद भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने दावा किया कि पुलिस पर पत्थर ‘‘बाहरी’’ लोगों ने बरसाये, जिनका पार्टी से कोई लेना-देना नहीं है. उन्होंने कहा, ‘‘हमलोग शांतिपूर्ण तरीके से अपना ‘कानून अवज्ञा कार्यक्रम’ कर रहे थे, लेकिन पुलिस ने बिना किसी उकसावे के हम पर लाठीचार्ज करना शुरू कर दिया. जिन लोगों ने पथराव किया वे बाहरी थे, उनका भाजपा से कोई लेना-देना नहीं है.’’ 

तृणमूल के वरिष्ठ नेता ज्योतिप्रिया मलिक ने आरोप लगाया कि भगवा पार्टी ने जानबूझकर हिंसा करने की कोशिश की. उन्होंने हिंसा भड़काने के आरोप में घोष को गिरफ्तार करने की मांग की.

भाजपा की प्रस्तावित रथ यात्राओं को इजाजत नहीं देने के तृणमूल कांग्रेस सरकार के फैसले के विरोध में प्रदर्शन के तहत भाजपा राज्य के कई हिस्सों में ‘‘कानून अवज्ञा कार्यक्रम’’ कर रही है.

उच्चतम न्यायालय ने राज्य में पार्टी की रथयात्रा को अनुमति नहीं देने के कलकत्ता उच्च न्यायालय के फैसले को चुनौती देने वाली याचिका पर तत्काल सुनवाई की अनुमति से सोमवार को इनकार कर दिया.

इस महीने तीन चरण में ‘‘लोकतंत्र बचाओ रैली’’ का आयोजन होना है, जिसके तहत राज्य में 42 लोकसभा क्षेत्रों को कवर किया जायेगा. इन रैलियों को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह हरी झंडी दिखायेंगे.

(इनपुट- भाषा)

DO NOT MISS